Thursday , 28 October 2021
Breaking News
दिल्ली दुष्कर्म : चारों दोषियों को मृत्युदंड, फैसला सुन रो पड़े दरिंदे    क्रिकेटर अंकित चव्हाण और श्रीशांत पर आजीवन प्रतिबंध    क्रिकेटर अंकित चव्हाण और श्रीशांत पर आजीवन प्रतिबंध
सूर्य नमस्कार विज्ञान का अभिन्न अंग इसे अपनाने में भेदभाव सही नहीं –राम नाईक

सूर्य नमस्कार विज्ञान का अभिन्न अंग इसे अपनाने में भेदभाव सही नहीं –राम नाईक

DSCF6089कानपुर/snn  प्रदेश के राज्यपाल महामहिम राम नाईक ने आज आई आई टी में आयोजित प्राचीन भारतीय विज्ञान एवं तकनीक विषय पर बोलते हुए कहा की हम दुनिया के प्रगतिशील देशों की अपेक्षा विज्ञान के मामले में आज भी काफी पिछड़े हैं ,उन्हों ने पूर्व प्रधानमन्त्री अटलबिहारी बाजपेयी के विज्ञान की जय हो के नारे का उल्लेख करते हुए कहा की बाजपेयी ने विज्ञान को जिन ऊँचाइयों तक पहुँचने का सपना देखा था वह अभी अधूरा है /लालह प्रयासों के बावजूद हम इस क्षेत्र में कोई ख़ास उन्नति नहीं कर पाए हैं /महामहिम ने कहा की हमें इसके पीछे के कारणों की तलाश करनी होगी तभी जय विज्ञान का नारा अपनी सार्थकता को पूरा कर सके गा /राज्यपाल ने सूर्य नमस्कार को विज्ञान का अंग बताते हुए कहा की इसे अपनाने में हमें किसी तरह के भेद भाव को बरतने की ज़रूरत नहीं है /राज्य्पान ने आगे कहा की पिछले १४ माह से वह प्रदेश के राज्यपाल हैं और भारत के इस उच्चतम प्रोधोगिकी संस्थान के छात्रों के बीच आने की काफी दिनों से इच्छा थी जो आज पूरी हो गयी /इसके पूर्व राज्यपाल ने आज़ाद नगर स्थित दीं दयाल उपाध्याय इंटर कालेज में आयोजित एक व्याख्यान माला को भी संबोधित किया /

 

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*