Wednesday , 8 December 2021
Breaking News
दिल्ली दुष्कर्म : चारों दोषियों को मृत्युदंड, फैसला सुन रो पड़े दरिंदे    क्रिकेटर अंकित चव्हाण और श्रीशांत पर आजीवन प्रतिबंध    क्रिकेटर अंकित चव्हाण और श्रीशांत पर आजीवन प्रतिबंध
दाउद इब्राहिम का पुराना साथी डॉन छोटा राजन भारत लाया गया -पूछताछ जारी

दाउद इब्राहिम का पुराना साथी डॉन छोटा राजन भारत लाया गया -पूछताछ जारी

chota-rajan_4afe51a6-842b-11e5-8fe0-54c761f0e0c7दिल्ली /पिछले दिनों इंटरपोल की सूचना पर इंडोनेशिया के बाली शहर में गिरफ्तार किये गए भारत के मोस्ट वांटेड भगोड़े आतंकी डॉन छोटा राजन को आज सुबह सी बी आई व दिल्ली पुलिस की  टीम विशेष विमान से दिल्ली लेकर आगई/ मोस्ट वांटेड अंडरवर्ल्ड डॉन दाउद इब्राहिम के दाहिने हाथ रहे छोटा राजन को एयरपोर्ट से सीधे सी बी आई के मुख्यालय लाया गया जहाँ उसे कड़ी सुरक्षा में सी बी आई के लाकअप में रखा गया /सी बी आई अधिकारियों ने उस से घन पूछताछ की है /सूत्रों के मुताबिक़ छोटा राजन ने दाउद के साथ मुंबई पुलिस के कई अधिकारियों के मिले होने की बात कही है और उन अधिकारीयों के नाम भी बताये हैं जो आज भी दाउद के इशारे पर मुंबई में कम करते हैं हाल्नके जिन नामों का राजन ने खुलासा किया है उनमे से कई पुलिस अधिकारी रिटाएर हो चुके हैं /फिलहाल राजन से मिली जानकारी सार्वजनिक नहीं की गयी है /बता दें की छोटा राजन ८० के दशक में दाउद इब्राहीम के संपर्क में आया और देखते ही देखते दाउद का सब से खास गुएगा बन गया जिसने मुंबई में ह्त्या ,फिरोती स्मगलिंग ,उगाही जैसे बड़े अपराधों में अपना नाम दर्ज करा लिया /मुंबई पुलिस ने उसके खिलाफ २० से अधिक हत्याओं के मुक़दमे दर्ज किये हैं वहीँ अन्य मामलों में भी वह मुंबई पुलिस को वांछित है /इंडोनेशिया में पकडे जाने के बाद जब उसे भारत लाने की बात कही गयी तो राजन ने भारतीय एजेंसियों को बताया था की उसे मुंबई न भेजा जाए क्यूंकि वहां दाउद के गुर्गों से अपनी जान का ख़तरा है और कई बड़े पुलिस अधिकारी दाउद के लिए काम करते हैं या किसी न किसी तौर पर मिले हुए हैं /राजन से दाउद के राज़ उगलवाने की नियात भारत लाने वाली खुफिया एजेंसी ने नजाकत को समझते हुए उसे मुम्बई न भज कर दिल्ली ले आई जहाँ आज सारा दिन उस से पूछ ताछ होती रही /

राजन ने बाली में बताया था की उसकी दोनों किडनियां खराब हैं जब की भरात में स्वास्थ्य परिक्षण में डाक्टरों ने चेकअप के बाद खुलासा किया की आतंकी डॉन राजन की किडनियां सही सलामत हैं और उसे किडनी की बीमारी नहीं /

माना जाता है की १९९३ में मुंबई बम धमाकों के बाद छोटा राजन दाउद के गैंग से अलग हो गया था वहीँ दाउद व उसके गैंग के सभी ख़ास सदस्य दुबई में जाकर छिप गए थे /दाउद के भारत से भागने के बाद राजन को मैदान खाली मिला और उसने मुंबई में अपना गैंग बना कर अपराध की दुनिया में खुद को मुंबई का सब से बड़ा डॉन घोषित कर दिया /राजन की बढती आपराधिक गतिविधियों से मुंबई पुलिस ने इसपर शिकंजा कसा तो वह थाईलैंड भाग गया जहां वर्ष २००० में दाउद के गुर्गों ने कई गोलियां मारी लेकिन वह बच गया और किसी तरह थाईलैंड के अस्पताल से भाग कर कई मुल्कों से होता हुआ आस्ट्रेलिया में जाकर बस गया /भारतीय एजेंसी सी बी आई को उम्मीद है की इंडोनेशिया से भारत लाकर राजन से पूछताछ में दाउद से जुडी कई अहम् जानकारिया मिल सकें गी /अब सभी को इंतज़ार है की राजन से मिली जानकारियों के आधार पर दाउद कब भारतीय सुरक्षा एजेंसियों के हाथ लगे गा /

 

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*