Friday , 13 December 2019
Breaking News
मध्य प्रदेश के खिड़किया और हरदा स्टेशन के बीच एक ही स्थान पर दुर्घटनाग्रस्त हो गईं दो ट्रेने ३० मरे .

मध्य प्रदेश के खिड़किया और हरदा स्टेशन के बीच एक ही स्थान पर दुर्घटनाग्रस्त हो गईं दो ट्रेने ३० मरे .

IMG-20150805-WA0032खंडवा।snn. मुंबई से वाराणसी जा रही
कामायनी एक्सप्रेस और जबलपुर से मुंबई जा रही
जनता एक्सप्रेस मंगलवार देर रात मध्य प्रदेश के
खिड़किया और हरदा स्टेशन के बीच एक ही स्थान
पर दुर्घटनाग्रस्त हो गईं। हरदा से 30 किलोमीटर
पहले उफनाई काली मचक नदी के पुल से गुजरते वक्त
कामायनी के 11 और जनता एक्सप्रेस के पांच
डिब्बे पुल से नीचे गिर गए। इन बोगियों में चार
सौ से अधिक यात्री सवार थे। हादसे में करीब 15
लोगों के मारे जाने की खबर है।
चश्मदीदों के मुताबिक, अब तक करीब दो सौ
लोगों को निकाला गया है। इस दौरान एक ही
कोच के 11 लोगों के शव निकाले गए हैं। हालांकि
बारिश के चलते राहत-बचाव कार्य में परेशानी आ
रही है।
रेलमंत्री सुरेश प्रभु ने हादसे की पुष्टि करते हुए ट्वीट
किया कि अंधेरे और मूसलाधार बारिश की वजह से
राहत और बचाव कार्य में दिक्कत आ रही है।।
रेलवे के मुताबिक, ज्यादातर लोगों को बाहर
निकाल लिया गया है। फ्लैश फ्लड से हादसे की
आशंका है। हादसे की वजह से 35 ट्रेनों के रूट बदले
गए हैं। सेंट्रल रेलवे के अनुसार, कामायनी एक्सप्रेस के
एस1 से एस11 के बीच के सभी डिब्बे, जबकि जनता
एक्सप्रेस के पांच डिब्बे पटरी से उतरे।
गृह मंत्री किरण रिजिजू के मुताबिक, हादसे में मरने
वालों की संख्या बढ़ सकती है। रेलवे और
एनडीआरएफ के जवान राहत कार्य में जुटे हैं।
हरदा के कलेक्टर रजनीश श्रीवास्तव के अनुसार,
खबर मिलते ही मेडिकल और बचावकर्मियों की
टीम मौके पर भेज दी गई है। मंडलायुक्त,
होशंगाबाद वीके बाथम ने कहा कि भारी बारिश
के कारण इस छोटे पुल पर अचानक ज्यादा पानी
आने से ट्रैक के नीचे की मिट्टी बह गई, जिससे यह
दुर्घटना हुई।
कामायनी एक्सप्रेस के जनरल कोच में सवार
यात्री जीतू राजाणी रांवेर ने बताया कि
अचानक तेज धमाके के साथ ट्रेन के डिब्बे पटरी से
उतर गए। इसके बाद भुसावल-इटारसी ट्रैक जाम हो
गया। खंडवा से रात 10 बजे कामायनी एक्सप्रेस
रवाना हुई थी।
भोपाल से 160 किमी दूर स्थित हरदा स्टेशन
खंडवा व इटारसी के बीच में पड़ता है। खंडवा के
कलेक्टर महेश अग्रवाल, एसपी महेंद्र सिंह सिकरवार,
सिविल सर्जन ओपी जुगतावत सहित कई
अधिकारी स्टेशन पहुंच गए। एसपी ने बताया कि
घटनाक्रम की जानकारी ली जा रही है। बाढ़ से
बचाव के लिए लाइफ जैकेट सहित होमगार्ड की
टीमें भी भेजी गई हैं।
सूत्रों के मुताबिक, हादसे की शिकार जनता
एक्सप्रेस की बोगी से निकलने के प्रयास में दो
लोगो की करंट लगने से मौत हो गई। भोपाल से
एनडीआरएफ और महू से सेना की बटालियन मौके
पर रवाना हो गई है।
अंधेरा और पानी होने से रेस्क्यू में बाधा
हरदा कलेक्टर रजनीश श्रीवास्तव ने कहा कि
कामायनी एक्सप्रेस के 5 डिब्बे पानी में डूबे हुए हैं।
प्रारंभिक तौर पर कोच में कोई हताहत नजर नहीं
आ रहे हैं। अंधेरा और पानी ज्यादा होने से रेस्क्यू में
दिक्कत आ रही है। लाइट की व्यवस्था की जा
रही है। इसके बाद ही पूरी जानकारी मिल
पाएगी। घटनास्थल पर मैं और एसपी मौजूद हैं।
रेस्क्यू टीम घटनास्थल पर पहुंची
हादसे के बारे में रेलवे के पीआरओ अनिल सक्सेना ने
बताया कि मुंबई की ओर से आ रही कामायनी
एक्सप्रेस के 5 कोच और हरदा की ओर से आ रही
जनता एक्सप्रेस के इंजिन व दो कोच माचक नदी
का पुल क्षतिग्रस्त होने के कारण पलट गए।
इटारसी व भोपाल से रेलवे के डीआरएम व रेस्क्यू
टीम घटना स्थल पर पहुंच गई है।
हेल्पलाइन नंबरः
हरदाः 9752460088
मुंबईः 022-5280005
भोपालः 07554061609
बीनाः 075802222
इटारसीः 0758422419200

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <strike> <strong>