Thursday , 28 October 2021
Breaking News
दिल्ली दुष्कर्म : चारों दोषियों को मृत्युदंड, फैसला सुन रो पड़े दरिंदे    क्रिकेटर अंकित चव्हाण और श्रीशांत पर आजीवन प्रतिबंध    क्रिकेटर अंकित चव्हाण और श्रीशांत पर आजीवन प्रतिबंध
आंधी तूफान का कहर, दो की गयी जान -कई घायल

आंधी तूफान का कहर, दो की गयी जान -कई घायल

11a

अंधी में गिरे पेड़ हटाते कर्मचारी

कानपुर। अधिक तापमान व निम्नवायु दाब का क्षेत्र बनने से इन दिनों रोजाना हवाएं रफ्तार पकड़ लेती है। यही नहीं यह रफ्तार 40 से 50 किलोमीटर होने के चलते शहर का आम जनजीवन तो अस्त-व्यस्त होता ही है। इसके साथ ही कहीं पेड़ गिरते है तो किसी के यहां छतों की टीनशेड ही उडी  जा रही हैं। मंगलवार को तो आंधी ने दो लोगों की जीवन लीला ही समाप्त कर दी।

क्षेत्रीय चक्रवात व बदली हवाओं ने ऐसी रफ्तार पकड़ी कि मंगलवार को लोगों को सड़क पर निकलना दूभर हो गया। हवाएं इतनी तेज रही कि जो जहां खड़ा हो गया आगे बढ़ने की हिम्मत नहीं जुटा सका। शहर का जनजीवन पूरी तरह से अस्त व्यस्त हो गया। बिजली पूरे शहर की गुल हो गई और कई जगहों पर पेड़ धरासाई हो गएं। तो वहीं कुछ देर के लिए शहर का यातायात पूरी तरह से ठप हो गया। सीएसए के मौसम वैज्ञानिक डा. अनिरूद्ध दुबे ने बताया कि हवाएं अपनी दिशाएं बदल रही हैं, अब पूर्वी की जगह उत्तरी हो गई है। इसके साथ अधिक तापमान व निम्न वायुदाव के चलते क्षेत्रीय चक्रवातों का जन्म हो रहा है। जिससे लगभग रोजाना तेज आंधी आ रही है। उन्होंने बताया कि एक सप्ताह बाद फिर आंधी पानी व बिजली चमकने की संभावना बनी हुई है। मौसम वैज्ञानिक के मुताबिक मानसून अभी आने की संभावना नहीं है। उन्होंने बताया कि हवाओं के बदलने से रात के तापमान में गिरावट हुई लेकिन दिन का तापमान यथावत रहने से अभी गर्मी से निजात नहीं मिलेगी। मौसम वैज्ञानिक ने बताया कि अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस व न्यूनतम तापमान 29 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया है। तो वहीं सुबह की आद्रता 67 प्रतिशत व दोपहर की आद्रता 35 प्रतिशत रही। उन्होंने बताया कि आंधी की रफ्तार 50 से 60 किलोमीटर प्रति घंटा रही है।
दो लोगों की हुई मौत
भयंकर आंधी के चलते शहर के कई इलाकों में होर्डिंगें व पेड़ धरासाई हो गए तो लोगों की छतों की टीन शेड भी नहीं बच सके। श्याम नगर में होर्डिंग गिरने से एक युवती की मौत हो गई तो वहीं हमराज काॅम्लेक्स भी एक युवक की मौत हो गई। काकादेव स्थित डबल पुलिया में पेड़ गिरने से कई घंटों तक यातायात ठप रहा। जिस जगह पर पेड़ गिरा है वहां पर कई ठेले वाले अपना ठेले लगाते है, हवाओं की रफ्तार देख ठेला वाले ठेला छोड़कर भाग खड़े हुए जिससे उनकी जान बच सकी।  थाना कर्नलगंज के सामने व बिधनू में भी कई पेड़ गिर गए हैं। हालांकि यहां पर कोई हताहत होने की खबर नहीं है। बिठूर रोड, में पेड़ गिर गया। हालांकि यहां पर किसी भी प्रकार की हताहत नहीं हुई है।

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*