Friday , 24 September 2021
Breaking News
दिल्ली दुष्कर्म : चारों दोषियों को मृत्युदंड, फैसला सुन रो पड़े दरिंदे    क्रिकेटर अंकित चव्हाण और श्रीशांत पर आजीवन प्रतिबंध    क्रिकेटर अंकित चव्हाण और श्रीशांत पर आजीवन प्रतिबंध
पंजाब। गुरदासपुर के थाने पर आतंकी हमला एसपी समेत पांच पुलिस कर्मी शहीद तीन नागरिकों की मौत। जवाबी हमले में तीन आतंकी ढेर

पंजाब। गुरदासपुर के थाने पर आतंकी हमला एसपी समेत पांच पुलिस कर्मी शहीद तीन नागरिकों की मौत। जवाबी हमले में तीन आतंकी ढेर

IMG-20150727-WA0108snn.सरहद पार से आये नापाक आतंकियों ने आज सवेरे लगभग पांच बजे पंजाब के गुरदासपुर ज़िले में खूनी  खेल खेला और कई मासूमो को मौत के घाट उतार दिया। घटनाक्रम इतनी तेज़ी से हुआ की सम्भलते सम्भलते ३  आम नागरिक और ४ पुलिस कर्मी  शहीद हो गये। पिछले दो दशक से शांत चल रहे पाकिस्तान बॉर्डर से सटे गुरदासपुर  ज़िले में आज सवेरे पांच बज कर दस मिनट पर सेना की वर्दी पहने कुछ आतंकियों ने सफ़ेद रंग की मारूति ८०० कार सवार को रोका और उसे  गोली मार कर घायल कर दिया गाडी लेकर आतंकी आगे बढ़े और अमरनाथ यात्रियों को ले जा रही पंजाब रेडवेज़ की बस में सवार हो गए बस में चढ़ते ही आतंकियों ने अंधा धुंध गोलिया चला दीं जिस में एक दर्जन यात्री घायल होगये और एक की मौत हो गयी इस दुस्साहसिक घटना को अंजाम देकर आतंकवादी दीनापुर पुलिस थाने में घुस गए और वहाँ जाते ही गोलियां बरसाना शुरू कर दीं इस गोली बारी में थाने में मौजूद तीन पुलिस कर्मियों की शहादत हो गयी वहीँ एक एसपी बलजीत सिंह मोर्चा लेते हुए शहीद हो गए। एसपी बलजीत ने फायरिंग की आवाज़ सुनते ही छत से मोर्चा लिया मगर एक गोली उनके सर में लगी और अस्पताल में उन्हें मृत घोषित कर दिया। ताज़ा जानकारी के अनुसार सेना की वर्दी में सीमा पार से भारत में घुसे आतंकियों ने सब से पहले एक ढाबे पर मौजूद एक शख्स की गोली मार कर ह्त्या कर दी फिर एक युवक की मारुती कार छीनी और बस स्टैंड पर खड़ी  बस पर फायरिंग की जिस में कई लोग घायल हुए जबकि एक व्यक्ति की मौत हुई उसके बाद नापाक आतंकियों ने सीधे दीनापुर थाने  पर हमला बोल दिया।
IMG-20150727-WA0106जिस समय थाने पर हमला हुआ ज़्यादा तर पुलिस कर्मी सो रहे थे।IMG-20150727-WA0105 दहशतगर्दों ने पहरे पर मौजूद सिपाही  को गोली मारी तो थाने  में हड़कम्प मच गया आनन फानन थाने में मौजूद सुरक्षा कर्मियों ने अपनी बंदूकों से जवाबी फायरिंग की। सूचना पाकर सेना के जवानों ने थाने पहुंच कर मोर्चा  बंदी की और घुसपैठियों पर गोलियां चलाईं। बता दें की थाने पर हमला करने वाले आतंकियों ने अपने को घिरता देख पुलिस कर्मियों के परिवारों को बंधक बनाने के लिए घरों में घुसने की कोशिश की मगर सेना और पुलिस की फायरिंग के चलते वो ऐसा नहीं कर सके और थाने से सटे एक खाली मकान में घुस गए , इस दौरान सेना और पुलिस के संयुक्त  अभियान में तीन आतंकी मार गिराये गए मगर पुलिस को भी अपने चार जवानो को खोना पड़ा। सुबह पांच बजे शुरू हुए इस खुनी खेल का खात्मा शाम पांच बजे हुआ जिस में तीन सिविलियन ,पांच पुलिस कर्मी शहीद हो गए ,जबकि तीन आतंकवादी मारे गए।IMG-20150727-WA0032 सूत्रों के अनुसार मृतकों का आकड़ा बढ़ सकता है क्यूंकि कुछ घायलों की हालत गंभीर है।मारे गए आतंकियों के पास से भारी मात्रा में ए के ४७ राइफल और ग्रेनेड बरामद हुए हैं। अभी तक किसी संगठन ने इस फिदायीन हमले की  ज़िम्मेदारी नहीं ली है मगर क़यास लगाया जा रहा है की ये लश्करे तैयबा का नापाक काम हो सकता है।IMG-20150727-WA0068जिस समय मुठभेड़ जारी थी उसी बीच सूचना मिलीं की पठानकोट से अमृतसर जाने वाली एक रेल लाइन के छोटे से पुल नंबर २३६ पर बम बंधे है जिस पर वहां से गुजरने वाली ट्रेन को समय रहते पुल  से दो सौ मीटर पहले रोक लिया गया और सेना के बम निरोधक दस्ते ने बमो को निष्क्रिय  कर दिया।रेलवे अधिकारियों ने बताया की ट्रैक को चेक करने वाले एक कर्मचारी ने सूचना दी की पल नंबर २३६ पर कुछ संदिग्ध चीज़ दिख रही है और बिजली के तार  बंधे है जिस पर वहाँ से गुजरने वाली लोकल ट्रेन को तुरंत रोका गया और सेना को जानकारी दी गयी समय रहते सेना ने सभी पांच बमों को निष्क्रिय कर बड़ा हादसा टाल  दिया।IMG-20150727-WA0080

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*