Saturday , 25 September 2021
Breaking News
दिल्ली दुष्कर्म : चारों दोषियों को मृत्युदंड, फैसला सुन रो पड़े दरिंदे    क्रिकेटर अंकित चव्हाण और श्रीशांत पर आजीवन प्रतिबंध    क्रिकेटर अंकित चव्हाण और श्रीशांत पर आजीवन प्रतिबंध
आरएसस और भाजपा ने जब काला धन को सफेद कर लिया-सतीश चन्द्र

आरएसस और भाजपा ने जब काला धन को सफेद कर लिया-सतीश चन्द्र

कानपुर। आरएसस और भाजपा ने जब काला धन को सफेद कर लिया तब जनता को परेशान करने के लिए सर्जिकल स्ट्राइक कर दी। अगर केन्द्र सरकार जनता की वास्तविक हितैषी है तो धन्नासेठों का ही कर्ज क्यों माफ किया। यह कहना है बहुजन समाज पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव सतीश चन्द्र मिश्र का।
बिल्हौर विधानसभा के शिवराजपुर में बसपा महासचिव रैली को संबोधित करते हुए भारतीय जनता पार्टी पर जमकर भड़ास निकाली। कहा कि ढाई साल से अधिक होने के बाद भी केन्द्र सरकार ने ऐसा कोई काम नहीं किया है जिससे जनता उन पर विश्वास कर सके। जिसके चलते पांच राज्यों के चुनाव के पहले काला धन रोकने के लिए 500 व 1000 की नोटे बंद करने का तुगलकी फरमान सुना दिया। जो पूरी तरह से राजनीतिक ड्रामा है। केन्द्र सरकार धन्नासेठों की हितैषी है तभी उनका कर्ज माफ किया जा रहा है और किसान तंगहाली के चलते आत्महत्या कर रहा उसकी उन्हे कोई फिक्र नहीं है। सपा पर निशाना साधते हुए कहा कि प्रदेश में जंगलराज है और जनता पूरी तरह से त्रस्त हो चुकी है। जनता अब बहन जी की कानून व्यवस्था को याद कर बसपा की तरफ आशा भरी निगाहों से देख रही है। ब्राह्मणों को चेताते हुए कहा कि आप बुद्धिजीवी है प्रदेश में आप की संख्या 16 फीसदी है और दलित 22 फीसदी। कहा कि कांग्रेस का यूपी में कोई जनाधार नहीं है तभी उनके रणनीतिकार इधर-उधर हाथ पाव मार रहे है। लेकिन प्रदेश की जनता बसपा की ही सरकार बनना देखना चाहती है और पार्टी दो तिहाई बहुमत से सरकार बनाने जा रही है।
ब्राह्मणों को सभी ने दिया धोखा
मिश्रा ने कहा कि कांग्रेस भाजपा व सपा ने केवल ब्राह्मणों का मत लिया और बदले में कुछ नही दिया। अब प्रदेश का ब्राह्मण धोखा खाने वाला नहीं है। सुरक्षित सीट बिल्हौर पर मिश्रा ने अपने पूरे भाषण में बार-बार ब्राह्मणों को आगाह कर रहे थे कि सर्वजन हिताय सर्वजन सुखाय नीति के तहत बसपा ही ब्राह्मणों का सम्मान के साथ अधिकार दे सकती है। भाजपा को तो यहां तक कह दिया कि वह तो ब्राह्मण विरोधी पार्टी है। कहा प्रदेश अध्यक्ष तो ब्राह्मणों को देखना भी नहीं चाहते और पीएम मोदी कलराज मिश्र को ढूंढकर सबसे छोटा मंत्रालय दिया और डा. मुरली मनोहर जोशी को मार्गदर्शक बना दिया।

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*