Sunday , 24 October 2021
Breaking News
दिल्ली दुष्कर्म : चारों दोषियों को मृत्युदंड, फैसला सुन रो पड़े दरिंदे    क्रिकेटर अंकित चव्हाण और श्रीशांत पर आजीवन प्रतिबंध    क्रिकेटर अंकित चव्हाण और श्रीशांत पर आजीवन प्रतिबंध
सपा पार्षद की मौत से राजधानी में तनाव शव यात्रा में उमड़ी भारी भीड़

सपा पार्षद की मौत से राजधानी में तनाव शव यात्रा में उमड़ी भारी भीड़

लखनऊ / snn पिछले दिनों दोस्त की मां की अर्थी को कंधा देते वक़्त समाजवादी पार्टी के चर्चित पार्षद अतुल यादव उर्फ़ बंटू यादव को शायद इस बात का अंदाज़ा भी न रहा होगा की वह खुद एक सप्ताह के भीतर अर्थी पर सवार होकर शमशान की ओर रवाना होगा.विगत एक नवम्बर को हज़रात गंज थाना क्षेत्र स्थित नरही बाज़ार में रहने वाले अपने मित्र अनिल यादव की मां की मौत के बाद उनके अंतिम संस्कार में शामिल होने पहुंचे बंटू यादव पर पहले से ही भीड़ में मौजूद शिव यादव ने उसके सर पर सता कर गोली मार दिठी जिसके बाद गंभीर रूप से घायल सपा पार्षद को इलाज के लिए ट्रामा सेंटर में न्हारती कराया गया था जहाँ इलाज के दौरान आज सुबह उसकी मौत हो गयी .बंटू के मरने की जानकारी से राजधानी के प्रमुख बाज़ार हज़रात गंज व आसपास के इलाकों में तनाव का माहौल पैदा होगया जिसे देखते हुए एसएसपी राजेश पाण्डेय की अगुवाई में भारी पुलिस बल ने समूचे इलाके को छावनी में तब्दील कर हाई अलर्ट घोषित कर दिया.बंटू यादव को मुख्यमंत्री अखिलेश यादव का काफी करीबी माना जाता है. बंटू यादव रामतीर्थ क्षेत्र से पार्षद थे इसके पूर्व उनकी पत्नी भी इसी क्षेत्र से पार्षद रह चुकी हैं.घटना जिस जगह हुई मुख्यमंत्री आवास की दूरी वहां से मात्र एक किलोमीटर है .बंटू की मौत के बाद उनके समर्थकों में व्याप्त आक्रोश को देखते हुए पुलिस ने पोस्टमॉर्टेम के बाद शव को घर नहीं जाने दिया और पोस्टमॉर्टेम हाउस से ही अर्थी को शमशान लेजाया गया इस दौरान बंटू की शव यात्रा में हजारों की भीड़ ने शिरकत की और उन्हे नम आँखों से अंतिम विदाई दी .इस मौके पर समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेताओं सहित प्रदेश सरकार के राजनैतिक पेंशन मंत्री राजेन्द्र चौधरी भी शमशान घाट पहुचे.

.

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*