Friday , 17 September 2021
Breaking News
दिल्ली दुष्कर्म : चारों दोषियों को मृत्युदंड, फैसला सुन रो पड़े दरिंदे    क्रिकेटर अंकित चव्हाण और श्रीशांत पर आजीवन प्रतिबंध    क्रिकेटर अंकित चव्हाण और श्रीशांत पर आजीवन प्रतिबंध
परेड मुर्गा मार्केट में युवक के आत्मदाह के प्रयास से प्रशासन के हाथपाँव फूले।

परेड मुर्गा मार्केट में युवक के आत्मदाह के प्रयास से प्रशासन के हाथपाँव फूले।

box photo copyकानपुर।परेड स्थित पुरानी मुर्गा मार्केट को खाली कराने की लड़ाई जीतने के बाद शनिवार को जिला प्रशासन ने व्यापरियों को बिना विवाद दुसरे स्थान पर विस्थापित करने में कामयाबी हसीलकर ली थी और सभी ७९ दुकानदारों को रविवार की शाम तक अपना सामान हटाने की मोहलत दी थी अधिकतर व्यापारियों ने अपने सामन को हटाना शुरू कर दिया था और जिला प्रशासन इस जीत पर खुश था लेकिन यह ख़ुशी उस समय रफूचक्कर हो गयी जब एक दुकानदार के समर्थक युवक ने दोपहर अपने ऊपर मिटटी का तेल उंडेल कर आत्मदाह करने की कोशिश की। रोज़ी रोटी छीनने के ग़म में उस युवक ने जब अपने ऊपर सब के सामने मिटटी का तेल डाला तो वहाँ मौजूद लोगों में हड़कम्प मच गया। आस पास मौजूद लोगों ने बड़ी मुश्किल से उसके हाथ से केरोसिन की बोतल चीनी और हाथ पकड़ लिए। इसी बीच परेड बाज़ार एसोसिएशन के अध्यक्ष अब्दुल माबूद ने आत्मदाह करने की कोशिश कर रहे युवक को बड़ी मुश्किल से समझाया और उसे वहाँ से दूर लगाये।सरेआम एक व्यक्ति के आत्मदाह करने की सूचना पर बवाल की आशंका के मद्देनज़र पुलिस बल किसी भी आपात स्थिति से निपटने को तैयार होगया वहीँ एडीएम सिटी अविनाश सिंह ने भी परेड मुर्गा मार्केट पहुँच कर स्थिति को सम्भाला।एक बुज़ुर्ग दुकानदार को रोता देख अपरजिलाधिकारी खुद भावुक हो गए और उसे गले से चिपटा लिया।उन्हों ने बुज़ुर्ग दूकानदार से कहा कि जिला प्रशासन ने आप क रोज़ी रोटी नहीं छीनी  बीएस आपको जनहित में यहां से विस्थापित किया है आप अल्लाह पर भरोसा रखें ऊपर वाला आप लोगों को वहाँ भी रोज़ी देगा।इस बीच बाकी दूकानदार अपना साम खोलते रहे और नगर निगम द्वारा मुहैया कराये गए ट्रकों से अपना माल खलवा स्थित नई अस्थाई मंडी में पहुंचाते रहे।एडीएम अविनाश सिंह ने बताया की स्थिति बिलकुल सामान्य है।अभी भी वहाँ से पूरा सामान नही हटाया जा सका है। दुकानदारों का कहना है कि इतनी पुरानी और बड़ी दुकानों को दो दिन में शिफ्ट कर पाना आसान नहीं है वहीँ प्रशासन का मूड देख कर भी लगता है कि वह सहयोग कर रहे दुकानदारों का माल और मलबा हटाने का पूरा मौक़ा देगा। सूत्रों  का मानना है कि जिला प्रशासन सामन हटाने के लिए नरमी बरते गा  ताकि कोई नया बवाल न खड़ा होसके।  खबर लिखे जाने तक परेड पर भारी संख्या में पुलिस बल तैनात था और एसीएम प्रथम योगेन्द्र व एडीएम अविनाश सिंह अपनी निगाह बनाये हुए थे।

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*