Saturday , 21 May 2022
Breaking News
दिल्ली दुष्कर्म : चारों दोषियों को मृत्युदंड, फैसला सुन रो पड़े दरिंदे    क्रिकेटर अंकित चव्हाण और श्रीशांत पर आजीवन प्रतिबंध    क्रिकेटर अंकित चव्हाण और श्रीशांत पर आजीवन प्रतिबंध
वकील की दिनदहाड़े पीट पीट कर निर्मम ह्त्या -वकीलों का हंगामा-जीटी रोड जाम

वकील की दिनदहाड़े पीट पीट कर निर्मम ह्त्या -वकीलों का हंगामा-जीटी रोड जाम

02a wakeel copyकानपुर। बिल्हौर कसबे में दिनदहाड़े कुछ दबंगों  ने लाठी डंडों से पीट पीट कर एक वकील को मौत के घाट उतार दिया और फरार हो गए। ह्त्या के पीछे प्रेम प्रसंग का मामला सामने आया है जिसमे दो पक्ष आपस में लड़ गए थे और वकील उसमे सुलह की कोशिशों में लगे थे इसी दौरान दोनों पक्षों में झगड़ा होने लगा और दोनों ओर से लाठी डंडे चलने लगे जिसमे म्र्तक पर भी हमला कर दिया गया जिसमे उनकी जान चली गयी  /बिल्हौर थाना क्षेत्र के रतिराम पुरवा निवासी ३५ वर्षीय वकील जीतेन्द्र पाल बिल्हौर तहसील में प्रेक्टिस करते थे। जानकारी के अनुसार बुधवार की सुबह जीतेन्द्र पाल को पड़ोस के रहने वाले सतेंद्र यादव ने अपने साथियों सहित घेर लिया और उनपर लाठी डंडों से ज़बरदस्त हमला बोल दिया जिस से अधिवक्ता बेदम होकर गिर पड़े। शोर शराबा सुन कर घर वाले बाहर आये तब तक हमलावर फरार हो चुके थे। गंभीर रूप से घायल अधिवक्ता को परिजन व इलाकाई लोग तुरंत हैलट अस्पताल लेकर भागे लेकिन रास्ते में ही उन्हों ने दम तोड़ दिया। किसी चमत्कार की आशा में परिजन उन्हे हैलट अस्पताल लाये जहां डाक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। दिन दहाड़े वकील की ह्त्या से बल्होरे कसबे में तनाव की स्थिति पैदा हो गयी वहीँ साथी की निर्मम ह्त्या से आक्रोशित सैकड़ों की संख्या में वकील कचहरी का काम छोड़ कर पोसमॉर्टेम हाउस के बाहर जमा होगये और वहाँ जाम लगा दिया।हालात बिगड़ते देख पोस्टमॉर्टेम हाउस के बाहर कई थानो का फ़ोर्स व अतिरिक्त सुरक्षा बालों को भेजा गया। पुलिस अधिकारीयों ने बड़ी मुश्किल से नाराज़ अधिवक्ताओं को शांत कराया। अधिवक्ताओं ने जिला प्रशासन से मांग की है कि मृतक के परिजनों को २० लाख रूपये मुआवज़ा दिलाया जाए व हत्यारों को अविलम्ब गिरफ्तार किया जाए। पुलिस अधिकारियों द्वारा जल्द कार्रवाई के आश्वासन पर वकीलों का गुस्सा कम हुआ और जाम खोल दिया गया।पोस्टमॉर्टेम हाउस के साथ साथ कचहरी में भी वकीलों ने न्यायिक कार्य छोड़ कर प्रदर्शन किया और हत्यारों की गिरफ्तारी की मांग की। लायर्स और बार एसोसिएशन ने संयुक्त रूप से प्रदर्शन में मांग रखी कि अधिवक्ताओं की सुरक्षा के लिए सरकार कुछ प्रभावी क़दम उठाये।
वहीँ बिल्हौर कसबे में शान्ति व्यवस्था के लिए एसपी ग्रामीण मौके पर नज़र रखे हैं।साथ ही भारी पुलिस बल तैनात है .

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*