Friday , 17 September 2021
Breaking News
दिल्ली दुष्कर्म : चारों दोषियों को मृत्युदंड, फैसला सुन रो पड़े दरिंदे    क्रिकेटर अंकित चव्हाण और श्रीशांत पर आजीवन प्रतिबंध    क्रिकेटर अंकित चव्हाण और श्रीशांत पर आजीवन प्रतिबंध
पूर्व जिलाध्यक्ष के बेटे की  ह्त्या – दो आरोपी गिरफ्तार

पूर्व जिलाध्यक्ष के बेटे की ह्त्या – दो आरोपी गिरफ्तार

कानपुर। सपा से पूर्व जिलाध्यक्ष व वर्तमान में ग्राम प्रधान के बेटे की दंबगो ने पीट-पीटकर हत्या कर दी और शव को नाले में फेंक कर भाग गये। सुबह घटना की जानकारी पर पहंुचे परिवार ने बेटे का शव देखकर हत्या का आरोप दोस्तों पर लगाते हुए पुलिस को सूचना दी। सूचना पाकर पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। इधर घटना की फारेंसिक जांच के बाद शव को पोस्टमार्टम भेज दिया गया है।
मूलरुप से कानपुर देहात के छतेनी गांव में रहने वाले बृृजमोहन यादव रोडवेज से रिटायर्ड है। पत्नी राजकुमारी सपा से पूर्व जिलाध्यक्ष और इस समय ग्राम प्रधान है। उनके चार बेटे हैं, बड़ा राजीव, नीरज, रोहित और सबसे छोटा मित्रकांत है। ग्राम प्रधान ने बताया कि उनका छोटा बेटा मित्रकांत कर्नाटक से स्टेट लेवल कर प्लेयर है। रोहित गोविन्दनगर गुजैनी एच ब्लाॅक अपने निजी मकान में रहकर एमटेक की पढ़ाई कर रहा हैं। भाई राजीव ने बताया कि रात रात लगभग साढ़े ग्यारह बजे रोहित का फोन आया और बताया कि पड़ोसी सैंकी उसका परिवार मुझे मार रहा है मुझे बचा लो इसके बाद फोन कट गया। जिसके बाद परिवार ने दोबारा फोन मिलाया तो काॅल रिसीव नहीं हुई। इस पर भाई ने रिश्तेदार राधेश्याम को फोन पर भाई के हालचाल लेने के लिए कहा। रिश्तेदार फौरन छात्र के घर में जाकर देखा तो सामान बिखरा पड़ा था, लेकिन रोहित घर पर नहीं था। इस जानकारी के बाद बीतीरात ही ग्राम प्रधान अपने अन्य परिवार के साथ गोविन्दनगर के लिए निकल पड़े। घर पहंुचे तो देखा कि बेटा नही हैं।
खोजते रहे पर रोहित नहीं मिला
ग्राम प्रधान ने पुलिस को सूचना दी और रात भर बेटे को खोजते रहे, लेकिन बेटे का कहीं पता नहीं चला। पुलिस ने पीड़ित परिवार से पूछतांछ की तो राजीव ने बताया कि अखिरी बार भाई से यह बात हुई थी कि उसका पड़ोसी सैंकी और उसके परिवार से विवाद के चलते मारपीट रहे हैं। पुलिस ने फौरन पड़ोसी के घर पहंुचकर सैंकी व अन्य परिवार को गिरफ्तार कर लिया।
सुबह नाले में मिला शव
लापता बेटे की तलाश करते हुए परिजन थक गये और उसका कहीं पता नहीं चला। रविवार की सुबह पुलिस ने घर के बाहर ही एक नाले में एमटेक छात्र का शव बरामद किया। शरीर पर चोटों के निशान मिलने पर परिवार ने मृतक छात्र के दोस्तों पर हत्या का आरोप लगाया हैं। पुलिस ने फारेंसिक टीम की मदद से साक्ष्य जुटाने के बाद शव को पोस्टमार्टम भेज दिया। पुलिस पूछतांछ पर यह पता चला है कि मृतक रोहित और सैंकी में रात में शराब पी और किसी बात को लेकर मारपीट हो होने लगी। मोहल्ले वालों ने बीच बचाव कर दोनों को अपने-अपने घर भेज दिया था। फिलहाल सीओ विशाल कुमार पाण्डेय का कहना हैं कि पीड़ितों की तहरीर के आधार पर मामला दर्ज कर शव को पोस्टमार्टम के लिए  भेज दिया गया है रिपोर्ट आने के बाद ही खुलासा हो सकेगा जांच की जा रही है।

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*