Tuesday , 21 September 2021
Breaking News
दिल्ली दुष्कर्म : चारों दोषियों को मृत्युदंड, फैसला सुन रो पड़े दरिंदे    क्रिकेटर अंकित चव्हाण और श्रीशांत पर आजीवन प्रतिबंध    क्रिकेटर अंकित चव्हाण और श्रीशांत पर आजीवन प्रतिबंध
अवैध सम्बन्ध के शक में पति ने पत्नी के टुकड़े किये

अवैध सम्बन्ध के शक में पति ने पत्नी के टुकड़े किये

कानपुर। गैर मर्द से पत्नी के अवैध संबध की जानकारी
बच्चों से होने पर पति ने फावडे़ से काटकर पत्नी की निर्मम हत्या कर दी।
हत्या के बाद इलाके में हड़कम्प मच गया। सूचना पर पहंुची पुलिस ने
हत्यारोपी पति को गिरफ्तार कर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।
घाटमपुर कोतवाली थानाक्षेत्र के सिमौर गाँव  निवासी चंद्रशेखर प्राइवेट
नौकरी करके पत्नी मुन्नी दो बच्चों का पालन-पोषण करता है। पति ने बताया
कि बीतीरात उसकी नाईट शिफ्ट में ड्यूटी होने पर रात आठ बजे परिवार के साथ
खाना पीना खाने के बाद घर से चला गया। घर में अधिक गर्म होने पर पत्नी
बच्चों को लेकर छत पर सो रही थी। बीतीरात छत पर मुन्नी का प्रेमी आया।
पड़ोसी युवक द्वारा मां से शारीरिक संबध बनाते हुए देख लिया। सुबह ड्यूटी
से पिता के आने पर बच्चों ने मां की करतूत  का भंडाफोड़ कर दिया।
बच्चों की जुबान से यह बात सुनते ही चन्द्रशेखर  आग बबूला हो गया और
पत्नी को पीटने लगा। उसके विरोध करने पर पति ने घर में रखे फावड़े से
पत्नी को दो भागों में काटकर मौत के घाट उतार दिया। यह घटना देखकर बच्चे
दहशत में आ  गये और चिल्लाकर आस-पड़ोसियों को इकटठा कर लिया। पत्नी की हत्या
के बाद भाग रहे पति को ग्रामीणों ने दौड़ाकर दबोच लिया और पुलिस को सूचना
दी। घाटमपुर सीओ जीतेंद्र सिंह ने बताया की महिला के अवैध संबंधों  के
चलते हत्या हुई है उसके पति को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है।
कई सालों से चल रहा था अवैध संबध
घटना के बाद पुलिस हिरासत में पकड़े गये हत्यारोपी पति ने बताया कि उसको
यह शक था कि पत्नी का किसी गैर मर्द से अवैध संबध है। लेकिन पुख्ता सबूत
न होने पर वह कोई ठोस कदम नहीं उठा पा रहा था। हत्यारोपी का कहना है कि
बच्चों द्वारा इस बात की जानकारी होने पर पत्नी की निर्मम हत्या की और इस
बात को उसे कोई पछतावा  नहीं है।
किसके सहारे जीयेगें बच्चे
घाटमपुर गांव में अवैध संबंधों के चलते पति ने पत्नी की फावडे़ से काटकर
निर्मम हत्या कर दी। वहीं पुलिस ने पति को भी गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।
मां की मौत व पिता के जेल जाने के बाद बच्चे बेसहारा हो गये।

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*