Wednesday , 27 October 2021
Breaking News
दिल्ली दुष्कर्म : चारों दोषियों को मृत्युदंड, फैसला सुन रो पड़े दरिंदे    क्रिकेटर अंकित चव्हाण और श्रीशांत पर आजीवन प्रतिबंध    क्रिकेटर अंकित चव्हाण और श्रीशांत पर आजीवन प्रतिबंध
2013 की चैम्पियन मुंबई इंडियन्स ने चेन्नई सुपरकिंग्स को हराया। पहुंची फाइनल में.

2013 की चैम्पियन मुंबई इंडियन्स ने चेन्नई सुपरकिंग्स को हराया। पहुंची फाइनल में.

1432060849-563219.09.2015 मुंबई।   धुरंधर सलामी बल्लेबाज लेंडल सिमंस के अर्धशतककी बदौलत और  गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन से 2013 की चैम्पियन मुंबई इंडियन्स ने इंडियन प्रीमियर लीग के पहले क्वालीफायर में चेन्नई सुपरकिंग्स जैसी मज़बूत टीम को 25 रन से हराकर तीसरी बार फाइनल में जगह बनाई।मुंबई इंडियन्स ने सिमंस (65 रन ) और कीरोन पोलार्ड (41 रन ) की शानदार पारियों की मदद से छह विकेट पर 187 रन का सम्मान जनक स्कोर बनाया  और फिर लसिथ मलिंगा (23  पर तीन विकेट) और हरभजन सिंह (26  पर दो विकेट) की ज़बरदस्त कसी गेंदबाजी से चेन्नई सुपरकिंग्स को 19 ओवर में 162 रन पर आउट कर दिया।चेन्नई की टीम ने नियमित अंतरराल पर विकेट गंवाती रही  और वह कभी भी लक्ष्य को हासिल करने की पोज़िशन में नहीं दिखी। टीम के लिए सिर्फ फाफ डु प्लेसिस (45) ही टिककर बल्लेबाजी कर पाए। लक्ष्य का पीछा करने उतरे सुपरकिंग्स की शुरुआत खराब ही  रही और उसने पारी की चौथी गेंद पर  ड्वेन स्मिथ (0) का विकेट खो  दिया, जिन्हें मलिंगा ने पगबाधा आउट किया।ओपनिंग  बल्लेबाज माइकल हसी (16) और डु प्लेसिस ने पारी को आगे बढ़ाया। हसी ने मिशेल मैकलेनाघन पर चौका जड़ा जबकि डु प्लेसिस ने इस तेज गेंदबाज की लगातार गेंदों पर छक्का और चौका मारा। हसी ने आर विनय कुमार पर मिड विकेट बांउड्री पर छक्का जड़ा लेकिन डु प्लेसिस इसी ओवर में खुशकिस्मत  रहे, जब थर्ड मैन पर मलिंगा ने उनका आसान कैच छोड़ दिया।डु प्लेसिस ने मैकलेनाघन के अगले ओवर में तीन चौके मारे लेकिन विनय कुमार ने हसी को विकेटकीपर पार्थिव पटेल के हाथों कैच कराके चेन्नई का स्कोर दो विकेट पर 46 रन किया।सुरेश रैना 20 गेंद में 25 रन ने विनय कुमार पर छक्के के साथ छठे ओवर में टीम का स्कोर 50 रन के पार पहुंचाया। ब्रावो ने  खोलते हुए  14वें ओवर में  स्पिनर जगदीश सुचित की लगातार गेंदों पर छक्के और चौके के साथ टीम के रनों का सैकड़ा पूरा किया।हालांकि सुचित ने  इसी ओवर में डु प्लेसिस को लांग ऑन पर विनय कुमार के हाथों कैच आउट  कराके चेन्नई को पांचवां झटका दिया। ब्रावो इसके बाद दो रन लेने की कोशिश में रन आउट हो गए । ब्रावो ने  15 गेंद में 20 रन बनाए।

चेन्नई सुपरकिंग्स को अंतिम पांच ओवर में जीत के लिए 67 रन की ज़रूरत  थी। विनय कुमार ने इसके बाद पवन नेगी (3) जबकि मैकलेनाघन ने रविंद्र जडेजा (19) को पैवेलियन भेजकर सुपरकिंग्स की रही सही उम्मीद भी खत्म कर  दी।
रविचंद्रन अश्विन ने महज़ 12 गेंद में 23 रन की पारी खेलकर हार के अंतर को कुछ कम तो  किया लेकिन मलिंगा ने उन्हें डीप मिडविकेट पर अंबाती रायुडू के हाथों कैच करा दिया। मलिंगा ने आशीष नेहरा :00: को सिमंस के हाथों कैच कराके चेन्नई की पारी का अंत किया।
इससे पहले सिमंस ने 51 गेंद में पांच छक्कों और तीन चौकों की मदद से 65 रन की पारी खेलने के अलावा पार्थिव पटेल (35) के साथ पहले विकेट के लिए 10.4 ओवर में 90 रन की साझेदारी भी की। पोलार्ड (17 गेंद में 41 रन, पांच छक्के, एक चौका) ने अंतिम ओवरों में ताबड़तोड़ बल्लेबाजी करते हुए टीम का स्कोर 190 रन के करीब पहुंचाया।
 चेन्नई सुपरकिंग्स की ओर से  ब्रावो सबसेका मयाब गेंदबाज रहे।  जिन्होंने 40 रन देकर तीन विकेट अपने नाम किये । सिमंस ने इस बीच आशीष नेहरा :28 रन पर एक विकेट: पर दो चौके मारने के बाद अश्विन के तीसरे ओवर में दो छक्के जड़े । दायें हाथ के इस बल्लेबाज ने नेहरा पर सीधा छक्का जड़ने के बाद पवन नेगी पर एक रन के साथ सातवें ओवर में टीम के 50 रन पूरे किए।
पार्थिव पटेल  ने नेगी के अगले ओवर में मोर्चा संभालते हुए पहली तीन गेंद पर छक्का और दो चौके मारे। सिमंस ने मोहित शर्मा (33 रन पर एक विकेट) पर दो रन के साथ 38 गेंद में आईपीएल आठ का अपना पांचवां अर्धशतक भी पूरा किया। ब्रावो ने अपने पहले ही ओवर में पार्थिव को जडेजा के हाथों कैच कराया। पार्थिव ने 25 गेंद की अपनी आकर्षक पारी में चार चौके और एक छक्का मारा।
नेगी ने इसके बाद जडेजा की गेंद पर सिमंस का शानदार कैच लपककर चेन्नई को कुछ राहत पहुचाई । कप्तान रोहित शर्मा (19) ने जडेजा पर छक्का मार  लेकिन ब्रावो की गेंद पर बाउंड्री पर जडेजा को कैच दे बैठे। पोलार्ड ने नेगी की गेंदों पर दो छक्के मारे। नेगी बहुत  महंगे साबित हुए और उन्होंने चार ओवर में 46 रन दिए ।
आशीष नेहरा ने हार्दिक पंड्‍या (1) को जडेजा के हाथों कैच कराके मुंबई को चौथा झटका दिया। पोलार्ड ने इसके बाद मोहित पर एक और ब्रावो पर दो छक्के जड़े लेकिन वेस्टइंडीज के अपने इस हमवतन तेज गेंदबाज की गेंद पर सुरैना रैना को आसान कैच दे दिया । मुंबई इंडियन्स ने 20 ओवर में 6 विकेट खोकर 187 रनों का सम्मानजनक स्कोर खड़ा किया था।

 

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*