Saturday , 21 May 2022
Breaking News
दिल्ली दुष्कर्म : चारों दोषियों को मृत्युदंड, फैसला सुन रो पड़े दरिंदे    क्रिकेटर अंकित चव्हाण और श्रीशांत पर आजीवन प्रतिबंध    क्रिकेटर अंकित चव्हाण और श्रीशांत पर आजीवन प्रतिबंध
कानपुर/महानगर को बहुत याद आये लोकनायक जयप्रकाश नारायण

कानपुर/महानगर को बहुत याद आये लोकनायक जयप्रकाश नारायण

snn उत्तर प्रदेश खादी ग्रामोद्योग महासंघ व गाँधी विचार केन्द्र ने संयुक्त रूप से मुख्यालय 76/271 सुरभि हाउस, सब्जी मण्डी, बादशाही नाका, कानपुर नगर में लोकनायक जयप्रकाश जी की 113वीं जयन्ती मनाई।

मुख्य वक्ता श्री सुरेश गुप्ता प्रान्तीय अध्यक्ष उत्तर प्रदेश खादी ग्रामोद्योग महासंघ  ने अपने सम्बोधन मे कहा कि आज युवा वर्ग सत्ता और सम्पत्ति की चमक-दमक के मायाजाल में भ्रमित हो रहा है। उन्हें न तो सही मार्गदर्शन न अप्रेषित त्याग, जय प्रकाश जी माक्र्सवाद के अध्येता, माक्र्सवादी एवं युवा हृदय सम्राट क्रान्तिकारी मानव-मुक्ति की मूूल प्रेरणा के कारण कभी भी जड़ या अध सिद्धान्तवादी  नही रहे। क्रान्ति के सिद्धान्तों को मानव मुक्ति के अभियान से जोड़कर वे निरन्तर उन प्रक्रियाओं को बारीकी से परखते रहे जो मुक्ति की दिशा मे आगे बढ़ने के लिए अपनायी गई थी और जब भी कोई भटकाव या अटकाव उन्हे दिखायी दिया वे शोधवृत्ति से उसके परिस्कार की दिशा मंे सक्रिय हो गये। उन्होने हमेशा को प्रोत्साहित करने का काम किया। कहते थे कि नौजवान जुड़ेगे वह संगठन चलेगा यही कारण है जिन संगठनों में युवा वर्ग नही है वह खत्म हो रहे है। 9 अप्रैल 1974 को विद्यार्थियों द्वारा जय प्रकाश जी  को लोकनायक घोषित किया गया। जनता की स्वाभाविक प्रवृत्ति सदैव स्वतंत्र और लोकशाही के पक्ष मे होती है। तानाशाही स्वीकार करने की वृत्ति जनता मे हरगिज नहीं होती।जनता स्वयं पर भरोसा करने लगेगी तो राजनीति के पीछे जनता नहीं, बल्कि जनता के पीछे जनता नही, बल्कि जनता के पीछे राजनीति भागेेगी। कार्यक्रम की अध्यक्षता सुरेश गुप्ता, संचलान महामंत्री के0के0 पाण्डेय ने किया। राजेन्द्र सिंह ‘टिल्लू’, दिनेश वाजपेयी, सोमेन्द्र शर्मा, अनिल सोनकर, श्याम सोनकर, नीरज दीक्षित, टोनी गुप्ता, पवन दीक्षित, सत्येन्द्र खन्ना, संजय पाल आदि उपस्थित रहे।

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*