Thursday , 28 October 2021
Breaking News
दिल्ली दुष्कर्म : चारों दोषियों को मृत्युदंड, फैसला सुन रो पड़े दरिंदे    क्रिकेटर अंकित चव्हाण और श्रीशांत पर आजीवन प्रतिबंध    क्रिकेटर अंकित चव्हाण और श्रीशांत पर आजीवन प्रतिबंध
पति की दुत्कार से आहत महिला ने थाने में खाया ज़हर -अस्पताल में भर्ती

पति की दुत्कार से आहत महिला ने थाने में खाया ज़हर -अस्पताल में भर्ती

abu obaida कानपुर।  तलाक शुदा महिला से दोस्ती कर एक युवक  ने उसे पांच साल तक लिवइन रिलेशन शिप में साथ रखा। घर वालों ने दबाव बनाया तो युवक ने प्रेमिका का धर्म परिवर्तन करा उसे नेहा से ज़ोया बनाया  और बकायदा   निकाह कर रिश्ते को सामजिक मान्यता दी। कुछ दिनों बाद  आपस में खटास पैदा हुई तो युवक ने पत्नी को छोड़ दिया। पहले पति से धोखा खायी महिला ने दुसरे शौहर से मिली बेवफाई पर आहत होकर राय पुरवा थाने में पुलिस  के सामने नशीली गोलियां निगल लीं।
रायपुरवा थानाक्षेत्र स्थित झंडे वाली गली के पास रहने वाले दूलीचन्द्र यादव ने अपनी बेटी नेहा यादव की शादी 6 जून 2003 में की थी। बेटी के मुताबिक उसका पति उस से  उम्र में काफी बड़ा था और उसने दूसरी शादी भी कर रखी थी। यह जानकारी होने के बाद महिला ने घटना की जानकारी परिवार को देते  हुए पति को तलाक दे दिया। जिसके बाद वह अपने मायके आ गयी और चमनगंज स्थित बैजू एक्सपोर्ट में काम करने लगी। महिला का कहना है कि इलाके में ही एडवरटीजमेंट का काम करने आमिर के यहां कम्पयूटर आपरेटर रियाजूद्दीन उर्फ राजा ने अपने प्यार भरी  बातों में फंसा लिया। उसका आरोप है कि पांच साल तक दोनों रिलेशनशिप में थे। जिसके बाद राजा के परिवारवालों ने शादी का हवाला देकर धर्म परिवर्तन करा  दिया। बकायदा निकाह हुआ दोनों राज़ी ख़ुशी साथ रहते रहे।  फिर अचानक  पति ने तीन दिन पहले उसे हर रिश्ता तोड़ते हुए घर से बेघर कर दिया। ससुरालियों व पति की प्रताड़ना से आहत होकर पत्नी रायपुरवा थाने पहुंची और पुलिस कर्मियों के सामने ही नशीली दवाईयां खा ली। यहां देखकर थाना मौजूद पुलिस के पैरों तले जमीन खिसक गयी। आनन-फानन में पुलिसकर्मियों ने महिला को इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया। जहां डाक्टरों ने उसे इमरजेंसी के महिला वार्ड पलंग नंबर 24 में भर्ती किया है। जहां महिला अपने पति को सजा व न्याय दिलाने के लिए पुलिसकर्मियों से न्याय की गुहार लगा रही है।
मेरी मजबूरी का उठाया फायदा
महिला ने बताया कि पति के तलाक के बाद वह काफी टूट चुकी थी। अपने ऊपर हुए जख्मों को भुलाने के लिए वह एक फर्म में काम करने लगी। जहां राजा से उसकी दोस्ती हुई फिर उसने मेरे भरोसे को जीतकर उसका फायदा उठाया और जब दिल भर गया तो घर से भगा दिया
क्या कहते है अफसर
घटना के बाद मामले में जब एसओ से पूछतांछ की तो उनके छुट्टी होने पर एसआई ने बताया कि मामला उनकी जानकारी में है। तहकीकात मंे यह पता चला है कि महिला व युवक पांच साल से लिव इन रिलेशन शिप में रह रहे थे। जबकि गैर बिरदारी में शादी की अपत्ति होने पर दोनों परिवार ने विवाहित जोड़े को घर से अलग कर दिया। अब महिला ने अपने पति पर आरोप लगाया है फिलहाल पीड़िता की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर मेडिकल के लिए महिला को जिला अस्पताल भेज दिया गया है। रिपोर्ट के आधार पर मामले की जांच की जायेगी ।

 

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*