Sunday , 24 October 2021
Breaking News
दिल्ली दुष्कर्म : चारों दोषियों को मृत्युदंड, फैसला सुन रो पड़े दरिंदे    क्रिकेटर अंकित चव्हाण और श्रीशांत पर आजीवन प्रतिबंध    क्रिकेटर अंकित चव्हाण और श्रीशांत पर आजीवन प्रतिबंध
कानपुर .तलाक़ महल में मकान के विवाद में खूनी संघर्ष कई घायल। पुलिस ने किया लाठी चार्ज ,पुलिस से  हाथापाई

कानपुर .तलाक़ महल में मकान के विवाद में खूनी संघर्ष कई घायल। पुलिस ने किया लाठी चार्ज ,पुलिस से हाथापाई

IMG-20150613-WA0081abu obaida .आज दोपहर थाना बेकनगंज के तलाक़ महल में एक एक विवादित  मकान पर क़ब्ज़े को लेकर हुए झगडे में  आपसी मारपीट और पुलिस के लाठी चार्ज में एक दर्जन लोग घायल हो गए।झगड़ा इतना बढ़ा की कई थानो का फ़ोर्से मौके पर बुलाना पड़ा ,घंटों चले संघर्ष में पुलिस से हाथा पाई और  मारपीट की गयी इस संघर्ष में बेकनगंज के एक  दारोग़ा की वर्दी तक पहट गयी।IMG-20150613-WA0083पहले से क़ाबिज़ गुलज़ार उर्फ़ चाँद के बेटों का कहना है की आज दोपहर बेकनगंज पुलिस के साथ मुज़फ्फर हुसैन पहुंचे और गैस कटर से मकान के अंदर जाने वाले लोहे के चैनल को काट दिया ,इस तरह मकान पर क़ब्ज़े की जानकारी हुई तो वे लोग पहुंचे और विरोध किया तो झगड़ा शुरू हो गया ये सब पुलिस की मौजूदगी में हुआ। चाँद पक्ष  का कहना है की इस मकान के ग्राउंड फ्लोर पर उनकी दूकान १९९० से है और मकान खरीदने के लिए मकान मालिक फ़ैयाज़ को अड्वान्स के तौर पर नौ लाख रूपये दिए जा चुके हैं मगर फ़ैयाज़ ने ज़्यादा पैसे की लालच में सौदा मुज़फ्फर हुसैन से करके रजिस्ट्री भी कर दी और उन्हें बताया तक नहीं। वहीँ पुराने मकान मालिक फ़ैयाज़ की माने तो चाँद गारमेंट्स के नाम से इसी भवन  में  दूकान चालने वाले गुलज़ार ने काफी साल पहले बिल्डिंग का सौदा २७ लाख में किया था और ब्याने का तौर पर ९ लाख रूपये दिए थे जिसकी रजिस्ट्री करने की अवधि २ साल थी मगर   गुलज़ार ने कई सालों तक न तो रजिस्ट्री   कराई  न ही बकाया रक़म दी।कुछ साल पूर्व चाँद ने रजिस्ट्री की बात की तो फ़ैयाज़ ने मकान की मौजूदा कीमत मांगी जिस पर दोनों पक्षों में विवाद हो गया और मामला अदालत तक पहुंच गया। इसी दौरान फ़ैयाज़ ने मकान को मुज़फ्फर  हुसैन को पचपन लाख रूपये में बेच दिया जिसका क़ब्ज़ा लेने वो आज पहुंचे थे।आप को बता दें की तीनों पक्ष इसी मोहल्ले के रहने वाले हैं इस लिए सभी के समर्थक मौके पर जमा हो गए और कुछ ही देर में झगड़ा शुरू हो गया झगड़ा इतना बढ़ा की बेकनगंज पुलिस उसे संभाल नहीं पाई और कई थानो का फ़ोर्से बुलाना पड़ा ,भारी फ़ोर्से की मौजूदगी में ही मुज़फ्फर और गुलज़ार  पक्ष में झगड़ा होता रहा और कई के सर पहट गए इसे काबू में करने  के लिए पुलिस को लाठी चार्ज करना पड़ा। IMG-20150613-WA0086 copy

मकान खरीदने वाले मुज़फ्फर हुसैन का कहना है की उन्हों ने पैसे देकर मकान खरीदा है और वो मालिक हैं मकान के खाली हिस्से में अपना क़ब्ज़ा लेने गए थे जो कानूनन उनका हक़ है इसका विरोध कोई कैसे कर सकता है?
विवाद की सूचना पर पहुंचे ए  सी एम २ योगेन्द्र सिंह ने मुज़फ्फर हुसैन के कागज़ देखे और स्थिति का मुआयना किया ,फिलहाल अभी तक मुज़फ्फर हुसैन को क़ब्ज़ा नहीं दिया गया है और तलाक़ महल में दोनों पक्ष आमने सामने है ,स्थिति को देखते हुए भारी पुलिस बल तैनात है।
बेकनगंज पुलिस पर लगे एकतरफा कार्रवाई के आरोप। 
गुलज़ार पक्ष के अनुसार बेकनगंज पुलिस ने अपनी मौजूदगी में गैस कटर से मैं गेट पर लगे ताले को गैस लकटर से कटवाया।
पुलिस पर आरोप बेबुनियाद। क्षेत्राधिकारी अनवरगंज।
पुलिस पर लगे आरोप को क्षेत्राधिकारी अनवर गंज राजेन्द्रधर दुिवेदी ने बेबुनियाद बताया और कहा की पुलिस झगडे की सूचना पर पहुंची थी और हालत को काबू में किया ,भीड़ और झगडे को देखते हुए कई थानो सहित एसपी पूर्वी का रिज़र्व फ़ोर्से भी बुलवाया गया ,कुछ लोगों को आपसी झगड़े में मामूलो चोटें आई हैं।क़ानून के हिसाब से जो सही हो गा किया जाएगाIMG-20150613-WA0089

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*