Monday , 17 January 2022
Breaking News
दिल्ली दुष्कर्म : चारों दोषियों को मृत्युदंड, फैसला सुन रो पड़े दरिंदे    क्रिकेटर अंकित चव्हाण और श्रीशांत पर आजीवन प्रतिबंध    क्रिकेटर अंकित चव्हाण और श्रीशांत पर आजीवन प्रतिबंध
कानपुर के बिधनू में एक करोड़ से अधिक की चोरी .

कानपुर के बिधनू में एक करोड़ से अधिक की चोरी .

kanpur.27.04.2015. abu obaida बिधनू थानाक्षेत्र के दुर्जनपुर गाँव में चोरों ने कानपुर की सब से बड़ी चोरी का इतिहास बना डाला। नगर निगम और पी डब्लू डी में के बड़े ठेकेदारों में शुमार दो सगे भाइयों के घरों से बीती रात चोरों ने अलमारी में रखे एक किलो सोने के आभूषण आधा किलो चांदी के …

Review Overview

0

फिंगर प्रिंट लेती फॉरेंसिक टीम  (5) copykanpur.27.04.2015. abu obaida बिधनू थानाक्षेत्र के दुर्जनपुर गाँव में चोरों ने कानपुर की सब से बड़ी चोरी का इतिहास बना डाला। नगर निगम और पी डब्लू डी में के बड़े ठेकेदारों में शुमार दो सगे भाइयों के घरों से बीती रात चोरों ने अलमारी में रखे एक किलो सोने के आभूषण आधा किलो चांदी के सिक्के जर्मनी में बना रिवाल्वर और अमेरिकी राइफल और डेढ़ लाख रूपये नक़द उड़ा लिए। चोरी हुए माल की कुल कीमत एक करोड़ से अधिक आंकी गई है।इतनी बड़ी चोरी की घटना की जानकारी गृहस्वामी सुबह सो कर उठने के बाद हुई।
बिधनू के दुर्जनपुर गांव में इस बड़ी चोरी की वारदात के बाद मौके पर एस पी ग्रामीण और फॉरेंसिक टीम के साथ डॉग स्कवाड ने साक्ष्य जुटाए।
जानकारी के अनुसार राजेश सिंह परमार रात अपने कमरे में सो रहे थे वहीँ पत्नी और बेटा छत पे सोये थे। सुबह जब राजेश परमार सो कर उठे तो देखा की कमरे का दरवाज़ा बंद है जब की वो दरवाज़ा खोल कर सोये थे दरवाज़े को खोलना चाह तो वो बाहर से बंद था कई आवाज़ें देने पर जब बेटा और पत्नी छत से नीचे आये तो दरवाज़ा खुला, किसी आशंका के चलते दुसरे कमरों को देखा तो उनके होश उड़ गए कमरें में सामन थोड़ा अस्तव्यस्त दिखा। अलमारी खोली तो होश उड़ गए सारा का सारा ज़ेवर ,नकदी रिवाल्वर और राइफल ग़ायब थी। तुरंत अपने पड़ोस में ही रहने वाले छोटे भाई वीरेंदर को फ़ोन किया तो उनउनहों ने भी अपने घर चोरी की बात बताई। तुरंत १०० नंबर को फोन किया तो बिधनू थाने से पुलिस पहुंची और आला अधिकारियों को जानकारी दी। मौके पर पहुंचे एस पी ग्रामीण सुरेन्द्र तिवारी ने देखा की अलमारियों के दरवाज़े सलामत थे और उन्हें चाबी से ही खोला गया था जिस से अंदाजा लगता है की वारदात में किसी करीबी का हाथ है जो ये जानता था की घर में क़ीमती सामन कहाँ रखा है। दोनों ही घरों में एक समय एक ही तरीके से चोरी की घटना को अंजाम देने से यही लगता है की चोरी में बहुत ही नज़दीक का कोई व्यक्ति शामिल है। जांच क्राइम ब्रांच को सौंपी गई है।फिंगर प्रिंट लेती फॉरेंसिक टीम  (4)okkkk

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*