Wednesday , 17 October 2018
Breaking News
कानपुर.मोहब्बत का पैग़ाम लेकर शान से निकला ऐतिहासिक जुलूसे मोहम्मदी

कानपुर.मोहब्बत का पैग़ाम लेकर शान से निकला ऐतिहासिक जुलूसे मोहम्मदी

IMG-20151224-WA0085abu obaida 98380 33331 पैग़म्बर हज़रत मोहम्मद (स अ )की पैदाइश की ख़ुशी में कानपुर में आज दोपहर ऐतिहासिक जुलूसे मोहम्मदी परेड ग्राउंड से निकला /जमियत उलमा कानपुर के नेतृत्व में दोपहर ज़ोहर की नमाज़ के बाद परेड चौराहे पर जमियत उलमा की टीम से जिला प्रशासन की ओर से जिलाधिकारी कौशल राज व पुलिस की ओर से कप्तान शलभ माथुर ने मुलाक़ात कर नबी के जन्मदिन की बधाई दी/जिला प्रशासन व जुलूस प्रशासन की औपचारिक मुलाक़ात के बाद मौलाना मतीन उल हक ओसामा कासमी ने दुआ की जिसमे जिलाधिकारी ,एसएसपी सहित बड़ी तादाद में प्रशासनिक अधिकारी शामिल हुए और जुलूस को हरी झंडी दिखा कर रवाना किया गया/जैसे ही जुलूस की शुरुआत हुई नारा ए तकबीर अल्लाह ओ अकबर की सदा से आसमान गूँज उठा/नेत्रत्व कर रही जमियत की जीप सब से आगे थी जिस पर जमियत उलमा के सदस्य सवार थे/मोहम्मद साहब की शान में दुरूद ओ सलाम का नजराना पेश करते हुए जुलूस जैसे ही परेड चौराहे से नई सड़क की ओर बढ़ा तो हमेशा की तरह सब से पहला स्वागत कैम्प लगाए ज़हूर अहमद एंड कम्पनी के हाजी जावेद व साथियों ने तारीखी जुलूस में शामिल लोगों का स्वागत फूलों से शुरू किया और लोगों को पानी व खाने के पैकेट आदि तकसीम किये/परेड चौराहे से आगे जुलूस बढ़ता हुआ पेच बाग़ में दाखिल हुआ तो वहाँ भी घरों की छतों और छज्जों से फूल बरसाए गए/सरों पर टोपी कुर्ता पैजामा पहने आशिकाने रसूल ने सब्ज़ परचम लहराए तो सभी ने प्यारे नबी पर दरूद का नजराना पेश किया/पेच बाग़ से आगे बढ़ता हुआ ये कारवां जब तलाक़ महल की चौड़ी सड़क पर पहुंचा तो दूर दूर तक लहराते  कलमा लिखे सब्ज़ झंडे देख कर लोगों का ईमान ताज़ा हो गया/ इस बीच असर की अज़ान हुई तो जुलुस में शामिल लोगों ने नजाज़ अदा की और नमाज़ के बाद जुलूस आगे की जानिब रवाना हो गया/तलाक महल में कई अंजुमनों सहित रूबी खान व साथियों ने जुलूस का स्वागत फूल बरसा कर किया और पानी सहित लोगों को मिठाई बांटी/एक अंदाज़े के मुताबिक़ परेड चौराहे से फूल बाग़ तक निकलने वाले इस जुलूस की लम्बाई १५ किलोमीटर से भी अधिक थी जिसमे लाखों रसूल के चाहने वाले पिछले सौ सालों से शिरकत करते चले आरहे हैं/सब से ख़ास बात ये है की यह विशुद्ध रूप से धार्मिक जुलूस होता है और इसमें किसी भी राजनैतिक पार्टी की शिरकत नहीं हो सकती और न ही कोई सियासी नारा लगाया जा सकता है/लेकिन जुलूस के स्वागत की किसी को भी मनाही नहीं है यही वजह है की इस जुलुस का स्वागत लगभग सभी पार्टियां रोड के किनारे मंच बना कर करती चली आरही हैं ,इस बार भी लाटूश रोड पर हमेशा की तरह गुरुद्वारा लाटूश रोड प्रबन्धक कमिटी ने ज़ोरदार स्वागत किया तो मेस्टन रोड पर भाजपा ,कांग्रेस ,बसपा ,सपा सहित लगभग सभी सियासी दलों ने जश्ने मोहम्मदी में अपनी शिरकत दर्ज कराई / इस बात की ताकीद जुलूसे मोहम्मदी के आयोजक जमियत उलेमा हर साल प्रेस के माध्यम से लोगों को करती आरही है यही कारण है की जुलूस में सिर्फ और सिर्फ मोहम्मद साहब की शान में नातिया कलाम पेश किया जाता है हालांकि जुलुस में फ़िल्मी गानों पर आधारित नातों पर बैन लगाया जाता है लेकिन उसे कुछ अंजुमने अनदेखा करते हुए फ़िल्मी गानों की तर्ज़ पर रेकार्डेड नातें जोर शोर से बजाते हैं/IMG_0577

सुरक्षा के कड़े प्रबंध

जुलुस की सुरक्षा के लिए हर साल की तरह इस बार भी भारी संख्या में पुलिस व अर्द्ध सैनिक बलों को लगाया गया था जो जुलूस के आगे ,मध्य में व पीछे मौजूद थे/किसी भी गड़बड़ी से निपटने के लिए स्थानीय गुप्तचर इकाई के साथ साडी वर्दी में जवानो को तैनात किया गया/पूरे जुलुस पर एसएसपी शलभ माथुर व जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने बारीकी से निगाह रखी/मुख्य चौराहों व मोड़ पर बैरिकेटिंग के ज़रिये रास्ता रोका गया ताकि कोई वाहन बीच में न घुसने पाए वहीँ विभिन्न चौराहों और सड़कों का रूट डाइवर्ट किया गया/रूट पर पड़ने वाली ऊंची इमारतों पर पुलिस ने दूरबीन की मदद से निगाह रखी और विडियो ग्राफी भी कराई गयी/जिलाधिकारी ने नगर निगम को पहले ही आदेशित किया था की आवारा जानवरों को जुलूस के पास जाने से रोकें जिसके चलते कैटिल कैचिंग दस्ता मुस्तैद था वहीँ फायर ब्रिगेड को भी अलर्ट रखा गया /जुलूस  में शामिल ऊंचे झंडों के बिजली के तारों से टकराने और पूर्व में हादसे होने से सबक लेते हुए दोपहर से ही जुलूस के रूट की बिजली काट दी गयी थी/ खबर लिखे जाने तक ७ बजे जुलूस का अगला सिरा फूलबाग पहुँच चुका था जब की बाकी हिस्सा दादा मियाँ चौराहे से गुज़र रहा था/IMG_0620

 

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <strike> <strong>