Tuesday , 19 October 2021
Breaking News
दिल्ली दुष्कर्म : चारों दोषियों को मृत्युदंड, फैसला सुन रो पड़े दरिंदे    क्रिकेटर अंकित चव्हाण और श्रीशांत पर आजीवन प्रतिबंध    क्रिकेटर अंकित चव्हाण और श्रीशांत पर आजीवन प्रतिबंध
शाहजहाँपुर के शहीद पत्रकार जगेंद्र के हत्यारे पुलिस की गिरफ्त से बाहर। पीड़ित परिवार को दे रहे धमकियां

शाहजहाँपुर के शहीद पत्रकार जगेंद्र के हत्यारे पुलिस की गिरफ्त से बाहर। पीड़ित परिवार को दे रहे धमकियां

IMG-20150609-WA0007abu obaida .IMG-20150609-WA0046शाहजहाँपुर के कर्मठ पत्रकार जगेंद्र सिंह की ह्त्या में शामिल सभी आरोपी अभी खुले आम घूम रहे हैं।ह्त्या के १०० घंटे बाद भी उत्तरप्रदेश सरकार में आरोपी मंत्री राम मूर्ती वर्मा और कोतवाल जांच के नाम पर आराम से घूम रहे हैं और तो और अब पीड़ित परिवार को समझौते के लिए बाध्य कर रहे हैं ,समझौता न करने पर गंभीर परिणाम भुगतने की धमकियां भी दे रहे हैं।शहीद पत्रकार जगेंद्र के बेटे ने मीडिया को बताया की उसके परिवार को लगातार धमकियां मिल रही हैं जिस में समझौते का दबाव डाला जा रहा है। आप को बता दें की शाहजहाँपुर के भरष्ट राज्य मंत्री राममूर्ति वर्मा की काली करतूतों को लगातार सोशल मीडिया पर लिखने से नाराज़ मंत्री ने साज़िश करके पत्रकार जगेंद्र पर झूठे मुक़दमे लगवाए और लगातार पुलिस द्वारा प्रताड़ित करवाया फिर भी न डरने और झुकने पर राममूर्ति वर्मा की शह पर कोतवाली  प्रभारी श्रीप्रकाश राय ने पेट्रोल दाल कर जला दिया था जिस से जगेंद्र की अस्पताल में उपचार के दौरान मौत हो गई थी। जगेंद्र की मौत के बाद मीडिया और सामाजिक संगठनों के दबाव में आरोपियों के विरुद्ध हत्या का मुक़दमा तो दर्ज हो गया मगर कारवाही के नाम पर कुछ नहीं हुआ ,सपा सरकार ने अभी तक मंत्री को हटाया न ही कोतवाल को निलंबित किया जब की अब तक सभी आरोपियों की गिरफ्तारी हो जानी चाहिए थी। जगेंद्र की निर्मम ह्त्या के बाद से पूरे देश में पत्रकारों को दुःख और गुस्सा है।समाजवाद की बात करने वाले मुख्यमंत्री भी इस संवेदनशील मामले में खामोश हैं

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*