Tuesday , 21 September 2021
Breaking News
दिल्ली दुष्कर्म : चारों दोषियों को मृत्युदंड, फैसला सुन रो पड़े दरिंदे    क्रिकेटर अंकित चव्हाण और श्रीशांत पर आजीवन प्रतिबंध    क्रिकेटर अंकित चव्हाण और श्रीशांत पर आजीवन प्रतिबंध
बस अडडे पर बारूद की अफवाह से मची अफरा-तफरी – डाग स्क्वाड ने की जांच

बस अडडे पर बारूद की अफवाह से मची अफरा-तफरी – डाग स्क्वाड ने की जांच

कानपुर- snn शहर के अंतर्राजीय  मेजर सलमान बस अडडे पर बारूद की अफवाह से यात्रियों में अफरा तफरी मच गई। देखते ही देखते पूरा बस अडडा पुलिस छावनी में तबदील हो गया। लेकिन जब कथित बारूद की बोरियों को खोला गया तो उसमें बारूद की जगह निमोशिन पाउडर पाया गया। जिसका इस्तेमाल चमड़े की सफाई में किया जाता है। प्राप्त जानकारी के अनुसार आज दोपहर शाहजहांपुर से कानपुर पहंुची परिवहन विभाग की यात्री बस जैसे ही झकरकटी बस अडडे पहंुची उसी  समय पार्सल द्वारा लाई गई इन बोरियों को एक कुली द्वारा उठाए जाने लगा इस दौरान कुली को बोरी में केमिकल होने का अहसास हुआ और उसने बारूद समझ कर इसकी जानकारी बस अडडे के एआरएम नीरज सक्सेना को दी। उन्होंने एहतियातन  बाबूपुरवा थाना पुलिस को इस मामले से अवगत कराया और यात्रियों से खचाखच भरे बस अडडे को तत्काल खाली करा लिया गया। इसी दौरान सीओ बाबूपुरवा की अगुवाई में कई थानों का फोर्स मौके पर पहंुच गया जिससे यात्री भी बुरी तरह से सहम गए। पुलिस के साथ फारेसिंक एंव डाग स्क्वाड  टीम भी मौके पर पहंुची और विशेज्ञषों  ने बोरियोें के गहमता से छानबीन की तो पता चला कि इसमें बारूद नहंी बल्कि निमोशिन का पाउडर है। तब जाकर लोगों ने राहत की सास ली । इस दौरान लगभग एक घंटे तक बस अडडे से बसों का आवागमन पूरी तरह से अवरूद्व रहा। बाबू पुरवा कोतवाली इंचार्ज रामवीर सिंह ने बताया की बस अड्डे से सूचना मिलते ही तत्काल डाग स्क्वाड को सूचना दी गयी थी खोजी कुत्ते की मदद से संदिग्ध बोरियों को सूंघने पर बारूद नहीं मिला बोरियों में निमोसिन नामक केमिकल है जिसे  चमड़े की रंगाई में इस्तेमाल किया जाता है /रामवीर सिंह ने बताया की कुली की भूमिका की जांच की जारही है की उसने बोरियों में बारूद होने का शक किस आधार पर जताया /

 

 

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*