Monday , 18 December 2017
Breaking News
आईआईटी अंतराग्नि में फैशन पर लगा गीत का तड़का

आईआईटी अंतराग्नि में फैशन पर लगा गीत का तड़का

कानपुर, 28 अक्टूबर । आईआईटी कानपुर के वार्षिक फेस्टिवल अंतराग्नि के दूसरे दिन विभिन्न प्रतियोगिताओं के पहले व दूसरे राउंड का आयोजन किया गया। ड्रामाटिक्स में नुक्कड़ नाटक, क्विज प्रतियोगिता, स्टेज प्ले, सिंक्रोनिसिटी प्रेलिम्स, म्यूजिकल, फाइन आर्ट, डीजे वार, मिस्टर एंड मिस अंतराग्नि, पोकर जैसी विभिन्न प्रतियोगिताओं में प्रतिभागियों ने अपनी प्रतिभा दिखाई। लेकिन आधी रात के बाद माडलों का जलवा देखते ही बन रहा था। तो वहीं कश्मर के संगीत पर आईआईटियंस व उपस्थित लोगों ने जमकर मस्ती की।आईआईटी के अंतराग्नि कार्यक्रम में दूसरे दिन शुक्रवार देर शाम को प्रोनाइट का आयोजन कर शुरूआत की गई। डा. पलास सेन के बैंड यूफोरिया ने स्टेज पर आते ही जलवा बिखेरा। मंच के चारों तरफ मौजूद आईआईटियंस व अन्य छात्र-छात्राओं के साथ उनके अभिभावक, शिक्षक व स्टाफ मस्ती में झूमने लगे। कभी न आना तू मेरी गली…. जैसे अनेक गीतों पर पूरा आईआईटी थिरकता नजर आया। तो वहीं आधी रात के बाद जब पूरा शहर सो रहा था तब आईआईटी रोशनी से जगमग था। परिसर के ऑडीटोरियम में एक से बढ़ कर एक मॉडल अपना जलवा बिखेर रही थी। मौका था अंतराग्नि के तहत आयोजित रितंभरा का। कार्यक्रम की शुरुआत विदेशों से आई दस मॉडल ने कैट-वॉक कर किया।इसके बाद पहले राउंड के विजयी मॉडल ने अपना जलवा बिखेरना शुरू किया। रितंभरा के विजेता को जज करने मिस साइबेरिया अर्लेन जोकोविक आई। विभिन्न इंस्टीट्यूट से आए छात्र-छात्राओं ने रैम्प पर कैट-वॉक कर अपनी प्रतिभा दिखाई। सभी मॉडल ने फैशन डिजाइनर रवि के परिधानों को धारण कर रखा था। फैशन का जलवा रात करीब ढाई बजे तक चलता रहा। कैट-वॉक, प्रश्न समेत कई राउंड पर आंकलन के बाद विजेता का नाम घोषित किया गया।
लगा मस्ती का तड़का
अंतराग्नि में मस्ती का तड़का है तो प्रतिभाओं की भरमार है। नुक्कड़ नाटक से लेकर क्विज प्रतियोगिता तक विभिन्न इंस्टीट्यूट से आए छात्र-छात्राएं अपनी प्रतिभा का सबूत दे रहे हैं। अंतराग्नि के दूसरे दिन 32 इवेंट का आयोजन हुआ। इसमें मुख्य रूप से रितंभरा का फिनाले आयोजित हुआ।
अंतिम राउंड में नौ टीमें दिखाएंगी प्रतिभा
अंतराग्नि में आयोजित ड्रामाटिक्स के नुक्कड़ नाटक में विभिन्न इंस्टीट्यूट से आए ग्रुप ने अपनी प्रतिभा दिखाई। छात्रों के समूह को बारीकी से जज करने के लिए बॉलीवुड व थिएटर के वरिष्ठ कलाकार राकेश बेदी, पृथ्वी जुटशी व राजेश शर्मा आए। बारी-बारी से सभी प्रतिभाग करने वाले विभिन्न इंस्टीट्यूट ने निर्धारित समय में नुक्कड़ नाटक का मंचन किया।
किसी ने चाइल्ड सेक्स को उजागर किया तो किसी ने ड्रग्स की समस्या को दिखाया। राजनीति पर भी जमकर व्यंग किए गए। सभी नुक्कड़ नाटक देखने के बाद तीनों जज ने अंतिम राउंड के लिए नौ टीमों का चयन किया। इसमें लेडी कॉलेज, आईटीईआर, मिरांडा हाउस, एसवी कॉलेज, जेएमसी, एमएनएनआईटी, शहीद भगत सिंह मॉर्निंग, आईआईटी-कानपुर और सीसीएसडी कॉलेज, चंडीगढ़ है।

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <strike> <strong>