Thursday , 28 October 2021
Breaking News
दिल्ली दुष्कर्म : चारों दोषियों को मृत्युदंड, फैसला सुन रो पड़े दरिंदे    क्रिकेटर अंकित चव्हाण और श्रीशांत पर आजीवन प्रतिबंध    क्रिकेटर अंकित चव्हाण और श्रीशांत पर आजीवन प्रतिबंध
कानपुर देहात .गजनेर में एक ही घर के तीन लोगों की निर्मम हत्या .

कानपुर देहात .गजनेर में एक ही घर के तीन लोगों की निर्मम हत्या .

  • फाइल फोटो रामसागर copyफाइल फोटो मासूम हरिकेश copyabu obaida  snn .07.07.2015 कानपुर देहात के थाना  गजनेर अंतर्गत पेराजोर मोहल्ले निवासी  ट्रांसपोर्टर राम सागर उसकी गर्भवती पत्नी शीला और पांच साल के मासूम बेटे हरिकेश की धारदार हथियार से निर्मम ह्त्या कर दी गयी .ट्रिपल मर्डर की जानकारी मिलते ही जिले के एसपी सभा राज फ़ोर्स के साथ घटनास्थल पर  पहुचे ,पुलिस ने सभी लाशों को सील कर पोस्टमॉर्टेम  के लिए भेज दिया है.घटनास्थल पर डाग स्क्वाड और फारेंसिक टीम ने साक्ष्य जुटाए . एसपी  ने इलाके में आक्रोश को देखते हुए भारी पुलिस बल तैनात कर दिया है .जानकारी के मुताबिक़ मृतक रामसागर कल रात अपनी ट्रांसपोर्ट कम्पनी से घर आये और खाना खा कर फैमली के साथ कमरे में सोने चले गए सुबह जल्दी उठने वाले रामसागर और उनकी पत्नी जब कमरे से बाहर नहीं आये तो पिता रमेश  सिंह ने कमरे के बाहर से बेटे को आवाजें दीं जवाब नहीं मिलने पर दस्तक दी तो  हाथ लगाते ही  दरवाज़ा खुल गया दरवाज़ा खुलते ही अंदर का खौफनाक  मंजर देख उनकी चीखें निकल गयीं सामने बेटे रामसागर उनकी पत्नीशीला और पांच साल के बेटे हरिकेश की रक्तरंजित लाशें पड़ी थीं ,सभी के गले कटे हुए थे और शरीर पर जगह जगह घाव थे  हत्यारों ने शीला के पेट में पल रहे बच्चे को भी नहीं बक्शा.इस भयानक मंजर को देख बुज़ुर्ग रमेश सिंह की चीखें निकल गईं रमेश की चीखपुकार सुन कर आस पड़ोस के लोग भागते हुए आये तो वीभत्स मंजर देख सभी दहल गए.किसी तरह रमेश सिंह को संभाल कर पुलिस को सूचना दी गयी .रमेश ने हिचकियों के बीच बताया रात सभी लोग हंसी ख़ुशी खाना खाने के बाद अपने अपने कमरे में सोने गए थे रात किसी समय कौन मार कर चला गया पता ही नहीं चला उनकी तो किसी से दुश्मनी भी नहीं .इस तिहरे और पेट में पल रहे बच्चे को जोड़ लें तो चौहरे ह्त्या काण्ड की गूँज पूरे कस्बे में फैल गयी ज़रा देर में हजारों का मजमा लग गया भीड़ को देखते हुए वहां अतिरिक्त पुलिस बल मंगवाना पड़ा .

एसपी का कहना है की घटना की सघन जांच के लिए टीमें गठित कर दी गयीं हैं ,फारेंसिक टीम और खोजी कुत्ते की मदद ली गयी है वहीँ सर्विलांस के ज़रिये घर के आसपास रात में मौजूद मोबाइल नम्बर भी चेक किये जाएँ गे .उन्हों ने कहा की अभी ये पूरी तरह से ब्लाइंड मर्डर केस है घर वालों से पूरी जानकारी के बाद जांच को आगे बढ़ाया जाये गा एसपी के अनुसार ये कारोबारी रंजिश भी हो सकती है या कोई अन्य कारण भी हो सकता है लूटपाट का मामला नहीं लगता क्यूंकि घर से कुछ भी लूटा नहीं गया सभी अलमारियां सही सलामत हैं जिस से अंदाजा कगाया जा सकता है की हत्यारों का मकसद केवल ह्त्या ही थी.

बता दें की मृतक राम सागर का गजनेर में ट्रांसपोर्ट का बड़ा कारोबार है और ये कुछ ही सालों में क्षेत्र का सब से बड़ा ट्रांसपोर्टर हो गया था.जाँच करती पुलिस  (5)

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*