Wednesday , 8 December 2021
Breaking News
दिल्ली दुष्कर्म : चारों दोषियों को मृत्युदंड, फैसला सुन रो पड़े दरिंदे    क्रिकेटर अंकित चव्हाण और श्रीशांत पर आजीवन प्रतिबंध    क्रिकेटर अंकित चव्हाण और श्रीशांत पर आजीवन प्रतिबंध
इटावा में दंपती के साथ दिनदहाड़े लूट

इटावा में दंपती के साथ दिनदहाड़े लूट

14-06-2013, इटावा । मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के शहर इटावा की कोतवाली इलाके में शास्त्री चौराहे के पास जीआईसी के सामने दिनदहाड़े दंपती को बाइकर्स ने लूट लिया। वे बेटी की शादी के लिए जेवर बनवाने के लिए रिक्शा से बाजार जा रहे थे। इस सनसनीखेज वारदात के बावजूद कोतवाली पुलिस घटनास्थल पर दो घंटे देरी से पहुंची। चौराहे के आसपास गश्त करने वाली जेब्रा मोबाइल पुलिस भी हवा में हाथ-पैर मारने के सिवा कुछ नहीं कर सकी।
शशि चौधरी निवासी ग्राम तेगूपुर अजीतमल औरैया शुक्रवार को पति जयपाल सिंह और बेटी सोनी के साथ इंटरसिटी एक्सप्रेस से शहर में आयी थी। वह बाइस ख्वाजा रोड स्थित आचार्य नगर में रिश्तेदारी में जाने के लिए रेलवे स्टेशन से रिक्शा पर पति और बेटी के साथ बैठी। रिक्शा शास्त्री चौराहे के पास जीआईसी के सामने पहुंचा तभी पीछे से बाइक सवार दो लोग आए और उनके पास से न सिर्फ पर्स छीन लिया बल्कि उनकी जंजीर, झुमकी, दो अंगूठी उतरवाने के साथ ही 18 हजार रुपये छीन लिए और भाग गए।
लुटे पिटे दंपती के मुताबिक सोनी की शादी की बात चल रही है। रिश्तेदारी में आने के साथ-साथ उनका दूसरा मकसद शहर में आकर सोनी के लिए जेवरात भी बनवाना था। लूट की वारदात को दिन के एक बजकर 10 मिनट पर अंजाम दिया गया और पास ही गश्त कर रही जेब्रा पुलिस कुछ नहीं कर सकी। दंपती की सुनवाई भी दो घंटे बाद तब हो सकी जब पुलिस घटनास्थल पर पहुंची। दंपती द्वारा कोतवाली पुलिस को तहरीर दे दी गयी है।
गौरतलब है कि दस दिन पहले शास्त्री चौराहे के पास ही यूनियन बैंक के सामने दिन दहाड़े दो बहनों से लूट की वारदात की गयी थी। सिविल लाइन थाना अंतर्गत घटित इस वारदात का अभी तक खुलासा नहीं हो सका है।
जेब्रा पुलिस को समूचे शहर में अपराधियों पर अंकुश लगाने को दौड़ाया जाता है। लेकिन जेब्रा पुलिस अभी तक किसी अपराधी को रंगे हाथ नहीं पकड़ सकी है। हर घटना में उसके होने का प्वाइंट कुछ ही दूरी पर स्थित होता है, इसके बावजूद उसको सफलता न मिलना उसकी कार्यशैली पर सवालिया निशान लगा रहा है। उक्त घटना में जेब्रा पुलिस ही नहीं अपितु चंद कदमों की दूरी पर पुलिस पिकेट की भूमिका भी बेअसर रही। Report :- Dinesh Shakya

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*