Tuesday , 19 October 2021
Breaking News
दिल्ली दुष्कर्म : चारों दोषियों को मृत्युदंड, फैसला सुन रो पड़े दरिंदे    क्रिकेटर अंकित चव्हाण और श्रीशांत पर आजीवन प्रतिबंध    क्रिकेटर अंकित चव्हाण और श्रीशांत पर आजीवन प्रतिबंध

Category Archives: Religion

हलाकू चंगेज खां से भी बड़ा जालिम था यजीद

snnकानपुर 4 नवम्बर। हलाकू चंगेज खां से भी बड़ा जालिम था यजीद। जिसकी जुल्म का जवाब नवास-ए-रसूल हजरत सैयदना इमामे हुसैन रजि. ने अपनी शहादत  से दिया है। हजरते सैयदना इमामे हुसैन का यही पैगाम था शरीयत  पर अमल और शरीयत को बचाने के लिये वक्त आ जाये तो जान व माल सबकी कुरबानी पेश  कर देनी चाहिये। यही वजह है कि हजरते सैयदना ... Read More »

हलाकू चंगेज खां से भी बड़ा जालिम था यजीद

snnकानपुर 4 नवम्बर। हलाकू चंगेज खां से भी बड़ा जालिम था यजीद। जिसकी जुल्म का जवाब नवास-ए-रसूल हजरत सैयदना इमामे हुसैन रजि. ने अपनी शहादत  से दिया है। हजरते सैयदना इमामे हुसैन का यही पैगाम था शरीयत  पर अमल और शरीयत को बचाने के लिये वक्त आ जाये तो जान व माल सबकी कुरबानी पेश  कर देनी चाहिये। यही वजह है कि हजरते सैयदना ... Read More »

नारी को बड़प्पन देने वाले संत साहित्य के एकमात्र संत थे गुरूनानक

कानपुर, 03 नवम्बर । नानक सर्वेश्वरवादी थे मूर्तिपूजा को उन्होंने निरर्थक माना। रूढिय़ों और कुसंस्कारों के विरोध में वे सदैव तीखे रहे। ईश्वर का साक्षात्कार उनके मतानुसार बाह्य साधनों से नहीं वरन् आंतरिक साधना से सम्भव है। उनके दर्शन में वैराग्य तो है ही साथ ही उन्होंने तत्कालीन राजनीतिक धार्मिक और सामाजिक स्थितियों पर भी नजर डाली है। संत साहित्य ... Read More »

उलेमा व इमामों की महत्वपूर्ण बैठक जमीअत बिल्डिंग में

कानपुर।;तहफ्फुज खत्मे नुबुव्वत कान्फ्रेंस की तैयारियों के संबंध में मजलिस तहफ्फुज खत्मे नुबुव्वत कानपुर के बैनर तले एक दिवसीय भव्य तहफ्फुज खत्मे नुबुव्वत कान्फ्रेंस की तैयारियों के संबंध में उलमा, इमामों, शहर के बुद्धिजीवियों और युवाओं की एक महत्वपूर्ण बैठक  दिनांक 30 अक्टूबर 2017दिन सोमवार बाद नमाज़ इशा  जमीअत बिल्डिंग रजबी रोड कानपुर में मजलिस तहफ्फुज खत्मे नुबुव्वत कानपुर के अध्यक्ष ... Read More »

सफ़रुल मुज़फ़्फ़र ”का महीना और इस्लामी नज़रिया

snn “स़फ़रुल मुज़फ़्फ़र” हिजरी कैलंडर का दूसरा महीना  जो “मुह़र्रमुलह़राम” के बाद और “रबीउलअव्वल” से पहले आता है इस महीने में आम  रूप में  ही इबादत की जाती है यानि कोई ख़ास  इबादत महीने में मसनून या मुस्तह़ब  नहीं है।  ये दूसरों महीनों की तरह ही है यानि ख़ासतौर  इस महीने में आपदा और मुसीबतों के नाज़िल होने  का अक़ीदा रखना ग़लत ... Read More »

दिवाली पर्व पर गरीबों को किया मिष्ठान वितरण

kanpur.सामाजिक संस्था राष्ट्रोदय के सदस्यों व पदाधिकारियों द्वारा निर्धन परिवारों में मिष्ठान फल तथा दीपक दान कर समाज के असहाय व निर्धन लोगों को दीपावली की खुशियां प्रदान करने का एक अच्छा कार्य किया गया कार्यक्रम के आयोजक समाज सेवी विनय अवस्थी ने कहा कि दीपावली का पर्व खुशियां बांटने तथा प्रकाश का प्रमुख होता है समाज के प्रत्येक वर्ग ... Read More »

जमीअत उलमा हिन्द के 33 वें अधिवेशन में देश के इतिहास की सबसे बड़ी संयुक्त सभा

कानपुर:- जब दुनिया में आपसी नफरत चरम पर हो, धार्मिक और साम्प्रदायिक युद्ध भड़काने के लिए वैश्विक शक्तियां पूरी क्षमता का प्रदर्शन कर रही हों, मुस्लिम देश धार्मिक युद्ध के मैदान में तब्दील हो चुके हों, एशिया के मुसलमानों को भी घृणा की आग में डालकर झुलसा देने और शिक्षा व विकास के मैदान से बाहर कर देने की योजना ... Read More »

नहाय खाय के साथ छठ पूजा की शुरुआत घाट व नहरों की बढ़ी रौनक

कानपुर। कार्तिक शुक्ल चतुर्थी शुक्रवार के दिन नहाय खाय से व्रत का आरम्भ हो गया है। यह पर्व सप्तमी तक बड़े हर्षोउल्लास से मनाया जाता है। कानपुर में जिस प्रकार से पर्व मनाया जाता है तो घाटों पर भी बिहार जैसा नजारा देखने को मिलेगा। बिहार का सबसे प्रसिद्ध महापर्व छठ पूजा कानपुर शहर में भी बड़ी श्रृद्धा के साथ ... Read More »

जमीयत उलेमा हिन्द का ३३वां राष्ट्रीय अधिवेशन १२व १३ नवम्बर को अजमेर में

कानपुर:- मुसलमानों पर चैतरफा हमले हो रहे हैं इसलिए हमें लड़ाई लड़ने के लिये रणनीति तैयार करना आवश्यक है, देश के जो धार्मिक, राष्ट्रीय, सामाजिक , सांस्कृतिक, राजनीतिक शैक्षिक और आर्थिक हालात हैं उन्हें नजरअंदाज नहीं किया जा सकता और यह लड़ाई बहुत ही होशमन्दी और विचार विमर्श से संभव है, जमीअत उलेमा ने हमेशा राष्ट्रीय एकता पर विश्वास रखा ... Read More »

तीन वर्ष बाद पूरे दिन बंधेगीं राखी, बन रहा है सिंहासन गौरी योग

कानपुर। snn भाई-बहनों के प्यार का त्यौहार रक्षाबंधन पिछले तीन वर्षों से कुछ निश्चित समय के लिए होता था। लेकिन इस बार सिंहासन गौरी योग के चलते पूरे दिन राखी बांधी जाएगी। ऐसे में दूर-दराज से आने वाले भाइयों के लिए बड़ी खुशखबरी है। दिनभर इस पर्व की खुशियां मनाई जा सकती है। आचार्य राम औतार पाण्डेय ने बताया कि ... Read More »