Friday , 1 July 2022
Breaking News
दिल्ली दुष्कर्म : चारों दोषियों को मृत्युदंड, फैसला सुन रो पड़े दरिंदे    क्रिकेटर अंकित चव्हाण और श्रीशांत पर आजीवन प्रतिबंध    क्रिकेटर अंकित चव्हाण और श्रीशांत पर आजीवन प्रतिबंध
वकील का हुआ दोबारा पोस्टमर्टम -हंगामे के बाद  ज़िलाप्रशासन ने २० लाख मुआवज़े की मांग मानी।

वकील का हुआ दोबारा पोस्टमर्टम -हंगामे के बाद ज़िलाप्रशासन ने २० लाख मुआवज़े की मांग मानी।

03aकानपुर। बिल्हौर में बुधवार को हुई वकील की ह्त्या से आक्रोशित वकीलों ने दुसरे दिन भी जम  कर हंगामा काटा और जीटी  रोड पर जाम लगा कर ज़बरदस्त प्रदर्शन किया।प्रदर्शनकारी वकीलों की मांग थी कि दोषियों पर ३०२ के तहत मामला दर्ज हो और मृतक के घर वालों को २० लाख मुआवज़ा दिया जाए। हंगामे की सूचना पाकर एडीएम सिटी अविनाश सिंह एसपी ग्रामीण व १२ थानो का फ़ोर्स मौके पर पहुंचा और जाम लगाए वकीलों और परिजनों को समझाने की कोशिश की।घंटों हंगामे के बाद एडीएम अविनाश सिंह ने मृतक वकील के घर वालों को २० लाख रूपये मुआवज़ा दिए जाने का आश्वासन दिया और आरोपियों पर ह्त्या का मुक़दमा दर्ज करने का आदेश दिया तब जाकर वकीलों ने जाम हटाया। जाम के कारण हज़ारों वाहनो की क़तार लग गयी जिसमे सेना का एक ट्रक भी घंटों फंसा रहा।  इस बीच मृतक वकील जीतेन्द्र पाल के शव का डिप्टी सीएमओ की मौजूदगी में वरिष्ठ डाक्टरों द्वारा दुबारा पोस्टमॉर्टेम किया गया जिसमे एक वरिष्ठ अधिवक्ता भी मौजूद रहे। बता दें कि बुधवार की सुबह बिल्हौर निवासी अधिवक्ता जीतेन्द्र पाल की इलाक़े के दबंग सतेंद्र यादव ने मामूली विवाद में साथियों के सहयोग से ह्त्या कर दी थी।ह्त्या के बाद बिल्हौर कसबे में हुए बवाल के बाद बिल्हौर कोतवाल सहित चार पुलिस वालों को निलंबित कर दिया था। कोतवाल पर लापरवाही के साथ आरोपियों से सांठगांठ का आरोप भी लगा था। हालांकि देर रात पुलिस ने चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया था लेकिन ह्त्या का मुक़दमा दर्ज नहीं किया था जिस से नाराज़ वकीलों ने गुरुवार को भी जम कर हंगामा काटा और आरोपियों के विरुद्ध सख्त से सख्त कार्रवाई की मांग के साथ मृतक के परिजनों को २० लाख के मिआवज़े की मांग की और कचहरी में हड़ताल कर दी। शाम तक जिला प्रशासनद्वारा २० लाख का मुआवज़ा दिए जाने के आश्वासन पर सांकेतिक हड़ताल को खत्म कर दिया गया। कानपुर बार एसोसिएशन के अध्यक्ष हरिप्रसाद यादव लायर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष रवि शंकर बाजपेयी और यंग लायर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष रतन अग्रवाल ने संयुक्त रूप से जिला प्रशासन को चेतावनी देते हुए कहा कि मुआवज़ा का आश्वासन यदि पूरा नहीं हुआ तो वकील फिर से साथी के लिए एकजुट होकर हड़ताल करें गे।

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*