Sunday , 16 January 2022
Breaking News
दिल्ली दुष्कर्म : चारों दोषियों को मृत्युदंड, फैसला सुन रो पड़े दरिंदे    क्रिकेटर अंकित चव्हाण और श्रीशांत पर आजीवन प्रतिबंध    क्रिकेटर अंकित चव्हाण और श्रीशांत पर आजीवन प्रतिबंध
एसीएम ने पकड़ी संदिग्ध  कार, चालक नहीं दे सका दस्तावेज.चालक से पूछतांछ शुरू

एसीएम ने पकड़ी संदिग्ध कार, चालक नहीं दे सका दस्तावेज.चालक से पूछतांछ शुरू

23.04.2015 kanpur शहर के किदवई नगर इलाके के म्यूजिकल फाउंटेन पार्क के बाहर सफेद रंग की इनोवा लग्जरी कार, कार के ऊपर लगी लालबत्ती और उसमें बैठे ड्राइवर को देख एसीएम प्रथम को कुछ शक हुआ। वीआईपी नम्बर और प्रदेश की राजधानी लखनऊ से ताल्लुक रखता देख अधिकारी ने चालक से जानकारी की। लेकिन चालक …

Review Overview

0

download23.04.2015 kanpur शहर के किदवई नगर इलाके के म्यूजिकल फाउंटेन पार्क के बाहर सफेद रंग
की इनोवा लग्जरी कार, कार के ऊपर लगी लालबत्ती और उसमें बैठे ड्राइवर को देख
एसीएम प्रथम को कुछ शक हुआ। वीआईपी नम्बर और प्रदेश की राजधानी लखनऊ से
ताल्लुक रखता देख अधिकारी ने चालक से जानकारी की। लेकिन चालक न तो कार मालिक
के बारे में बता सका और न ही कोई दस्तावेज दिखा सका। लिहाजा अधिकारी ने कार को
कब्जे में लेकर पुलिस को सौंप मामले की जांच शुरू कर दी।
शहर के किदवई नगर इलाके में बने म्यूजीकल फाउंटेंट पार्क के बाहर काफी समय से
खड़ी सफेद रंग की वीआईपी नंबर लिखी लालबत्ती कार को वहां से गुजर रहे एसीएम
प्रथम योगेन्द्र कुमार ने देखा। अधिकारी ने किसी वीआईपी के होने की आंशका पर
आसपास के लोगों से अधिकारी ने पता किया गया, तो पता चला कि रोजाना एक मैडम इस
लालबत्ती वाली कार से आती है और गाड़ी यहीं पर खड़ी करा कर ऑटो-टैक्सी में
बैठकर चली जाती है। फिर देर शाम वही मैडम वापस आती है और फिर कार में सवार
होकर वापस चली जाती है।
लेकिन ताज्जुब की बात यह है कि इस गाड़ी के ड्राइवर को भी नहीं मालूम की यह
लालबत्ती वाली लग्जरी भोकाली गाड़ी किसकी है और वह किस महकमे से ताल्लुक रखती
है।
गहमा-गहमी और शक के आधार पर एसीएम प्रथम लाल बत्ती लगी कार के पास गए और
ड्राइवर से पूंछतांछ की। पूछतांछ में चालक उन्हें कोई भी सटीक जवाब नहीं दे
सका। सिर्फ इतना ही नहीं जब चालक से एसीएम ने गाड़ी के दस्तावेज मांगे, तो वह
भी गाड़ी में नहीं थे। मौके की नजाकत को देखते हुए एसीएम प्रथम ने लालबत्ती को
उतरवाकर अपने कब्जे में ले लिया और गाड़ी को पुलिस के हवाले कर थाने भेज दिया।
पुलिस ने कार को कब्जे में लेते हुए इसके मालिक के विषय में जांच पड़ताल शुरू
कर दी है। इस संबंध में एसीएम प्रथम का कहना है कि कार में लालबत्ती लगी हुई
थी, जिसकी पूछतांछ में चालक कुछ भी नहीं बता सका है। संदिग्ध मामला देख कार को
कब्जे में लेकर चालक से जांच पड़ताल की जा रही है।

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*