Monday , 8 August 2022
Breaking News
दिल्ली दुष्कर्म : चारों दोषियों को मृत्युदंड, फैसला सुन रो पड़े दरिंदे    क्रिकेटर अंकित चव्हाण और श्रीशांत पर आजीवन प्रतिबंध    क्रिकेटर अंकित चव्हाण और श्रीशांत पर आजीवन प्रतिबंध
छठ पूजा की खुशियां मातम में बदली,बेटी ने की खुदकुशी

छठ पूजा की खुशियां मातम में बदली,बेटी ने की खुदकुशी

कानपुर।  एक परिवार की छठ पूजा उस वक्त बदरंग हो गई जब पूजा में परिवार के जाने पर बेटी ने फांसी लगाकर जान दे दी। पल भर में खुशियां गम में बदल गई। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम भेज दिया।
गोविंद नगर थानाक्षेत्र में रहने वाले शिव शंकर पाल राज मिस्त्री का काम करते हैं। परिवार में पत्नी बिन्दादेवी, बड़ी बेटी रिंकी, बेटा अरविंंद, बेटा नन्हें और सबसे छोटी बेटी पूजा (16) के साथ रहते हैं। पूजा 10वीं की कक्षा की छात्रा थी। छठ पूजा के चलते पूरा परिवार त्योहार मना रहा था और घर में खुशी माहौल था। राजमिस्त्री की बड़ी बेटी रिंकी की शादी बिहार के बक्सर में तीन साल पहले हुई थी। छठ पर्व मनाने के लिए रिंकी रविवार को कानपुर मायके आई थी। रिंकी ने पर्व को लेकर हर प्रकार की तैयारी व श्रंगार किया। इस दौरान छोटी बहन पूजा को उसकी सैंडल अच्छी लगाने पर बड़ी बहन से पहनने की बात कही। जिसे उसने छठ पर्व की पूजा करने के बाद नई सैंडल दिलाए जाने की बात कही। मां ने बताया कि इसी बात पर नाराज छोटी बेटी ने साथ में न चलकर नहर में पूजा अर्चना के लिए बाद में आने की बात कही। सभी के घर से जाने के बाद उसने खिड़की में फंदा बनाकर फांसी लगा ली। परिवार की माने तो बेटी के इस कदम ने उन्हें जिंदगी भर न भूलने वाला गम दे दिया। गोविंद नगर सीओ ज्ञानेंद्र सिंह ने बताया कि नाबालिग लड़की ने फांसी लगाई है। परिजनों ने किसी भी प्रकार को कोई आरोप नहीं लगाया है। पूछताछ में किसी बात से नाराजगी के चलते युवती के फांसी लगाए जाने की बात सामने आ रही है। शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है।

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*